Chamoli Glacier Tragedy Updates: रैणी से 7 शव बरामद, टनल में राहत एंव बचाव कार्य जारी

उत्तराखंड के जिले चमोली में ग्लेशियर टूटने से हुए नुकसान के बाद ITBP, NDRF, SDRF द्वारा राहत बचाव कार्य चल रहा है। एसडीआरएफ (SDRF) ने बताया कि उत्तराखंड में अब तक कुल 53 लोगों के शव बरामद हुए हैं

उत्तराखंड: उत्तराखंड (Uttarakhand) के चमोली में जोशीमठ के पास तपोवन इलाके में 7 फरवरी को ग्लेशियर फटने से राज्य को अब तक तबाही का सामना करना पड़ रहा है। NDRF के कमांडेंट पीके तिवारी ने बताया, मौसम खराब होने के बाद भी हमारा बचाव कार्य जारी है। तपोवन सुरंग से 5 शव निकाले गए हैं। सुरंग के अंदर हमें एक और शव का पता चला है।

रेस्क्यू ऑपरेशन

उत्तराखंड के जिले चमोली में ग्लेशियर टूटने से हुए नुकसान के बाद ITBP, NDRF, SDRF द्वारा राहत बचाव कार्य चल रहा है। एसडीआरएफ (SDRF) ने बताया कि उत्तराखंड में अब तक कुल 53 लोगों के शव बरामद हुए हैं। तपोवन टनल में अ​भी रेस्क्यू ऑपरेशन चल रहा है।

तपोवन टनल से शव बरामद

NDRF के​ डिप्टी कमांडेंट आदित्य प्रताप सिंह अब तक यहां (तपोवन टनल) से कुल 8 शव बरामद हुए हैं, कल रात के बाद 2 शव बरामद हुए। रैणी से कुल 7 शव बरामद हुए हैं। चमोली पुलिस ने जानकारी दी कि अब तक कुल 54 शव बरामद हो चुके हैं। जोशीमठ थाने में अब तक कुल 179 लोगों की गुमशुदगी दर्ज की जा चुकी है।

सर्च ऑपरेशन

उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार ने कहा कि हमारा सर्च ऑपरेशन जारी है। तपोवन टनल से आज 3 शव और मिले हैं जिसे लेकर वहां से कुल 8 शव बरामद हुए हैं। रैणी से कल शाम तक 7 शव मिले थे आज कोई नया शव नहीं मिला है। रेस्क्यू ऑपरेशन में 3-4 दिन और लगेंगे। पोस्टमार्टम भी कह रहा है और हमारा अंदाजा भी है कि हादसे के दौरान ही इन लोगों की मौत हो गई थी। ऐसा नहीं है कि हमने पहले टनल खोल लिया होता तो ये लोग बच जाते। टनल के अंदर सभी NTPC के लोग थे।

यह भी पढ़ेयह एक्ट्रेस तालाक के बाद रचा रहीं शादी, मेंहदी की Photo हुई viral

रैणी से 7 शव बरामद

चमोली ​की जिलाधिकारी स्वाति भदौरिया ने बताया कि टनल में लगातार काम चल रहा है और बैराज साइट पर भी मशीनें काम कर रही हैं। रैणी साइट पर भी काम चल रहा है। कल रैणी से 7 शव बरामद हुए, टनल से कल 6 और आज 3 शव बरामद हुए हैं।

NTPC के परियोजना निदेशक उज्जवल भट्टाचार्य ने कहा कि तपोवन टनल में हम लोग अभी 135 मीटर तक पहुंच गए हैं।  10-15 मीटर तक और मलबा साफ करने बाद पानी निकलने लगेगा। हमें उम्मीद है हम लोग जल्दी टनल में और आगे बढ़ते जाएंगे।

यह भी पढ़ेToolkit Document: टूलकिट के राज गहरे, ग्रेटा, निकिता, दिशा के चेहरे हुए बेनकाब

Related Articles

Back to top button