चंडीगढ़ की शूटर Anjum Moudgil का नाम खेल रत्न पुरस्कार के लिए प्रस्तावित

चंडीगढ़ की शूटर अंजुम मौदगिल का नाम खेल रत्न पुरस्कार के लिए के सिफारिश करेगा NRAI

नई दिल्ली: चंडीगढ़ की शूटर अंजुम मौदगिल (Anjum Moudgil) का नाम खेल रत्न पुरस्कार (Khel Ratna Award) के लिए के सिफारिश करेगा एनआरएआई (NRAI)। अंजुम ने चंडीगढ़ के सेक्रेड हार्ट सीनियर सेकेंडरी स्कूल में पढ़ाई के दौरान शूटिंग की। उन्होंने डीएवी कॉलेज, चंडीगढ़ से मानविकी में स्नातक और स्नातकोत्तर पूरा किया। इसके अलावा अंजुम ने खेल मनोविज्ञान में मास्टर्स पूरा किया। वह एक शौकीन सार कलाकार है।

सबसे बड़ा खेल पुरस्कार

राजीव गांधी खेल रत्न भारत में दिया जाने वाला सबसे बड़ा खेल पुरस्कार है। इस पुरस्कार को भारत के भूतपूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के नाम पर रखा गया है, जिन्होंने 1984 से 1989 तक प्रधानमंत्री कार्यालय में सेवा की। यह पुरस्कार हर साल खेल एवं युवा मंत्रालय द्वारा प्रदान किया जाता है।

प्राप्तकर्ताओं को मंत्रालय द्वारा गठित एक समिति द्वारा चुना जाता है और उन्हें अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पिछले चार साल की अवधि में खेल क्षेत्र में शानदार और सबसे उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया जाता है। इस पुरस्कार मे एक पदक, एक प्रशस्ति पत्र और नगद राशि पुरस्कृत व्यक्ति को दिये जाते है। सन् 2018 में यह राशी 7.5 लाख रुपये थी। लेकिन अब यह राशि बढ़ाकर 25 लाख कर दिया गया है।

 

सम्मानित व्यक्तियों को रेलवे की मुफ्त पास सुविधा प्रदान की जाती है जिसके तहत राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार एवं ध्यानचंद पुरस्कार विजेता राजधानी या शताब्दी गाड़ियों में प्रथम और द्वितीय श्रेणी वातानुकूलित कोचों में मुफ्त में यात्रा कर सकते हैं। इस पुरस्कार के पहले प्राप्तकर्ता शतरंज के ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद थे, जिन्हें 1991-92 में अपने शानदार प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया गया था।

यह भी पढ़ेNavjot Singh Sidhu ने Priyanka Gandhi Vadra से की मुलाकात, क्या पंजाब कांग्रेस की कलह समाप्त हो जाएगी?

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles