IPL
IPL

कोविड वैक्सीन पर लगने लगे आरोप, दो आंगनबाड़ी सेविका की हालत गंभीर

हाथरसः जिले में कोविड-19 (Covid-19) की वैक्सीन लगने के बाद दो आंगनबाड़ी सेविकाओं की हालत बिगड़ गयी। दोनों को जिला अस्पताल (District Hospital) लाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें अलीगढ़ (Aligarh) रेफर कर दिया गया। जैसे ही आंगनबाड़ी सेविकाओं की हालत बिगड़ने की जानकारी मिली, तो जिला अधिकारी रमेश रंजन, जिला प्रोबेशन अधिकारी डीके सिंह, सीएमओ डॉक्टर बृजेश राठौर ने फौरन जिला अस्पताल पहुंचकर उनका हाल जाना।

वैक्सीन से दो आंगनबाड़ी सेविकाओं की हालत बिगड़ी

जिले की सासनी ब्लॉक के सेवा का नगला में आंगनबाड़ी सेविकाओं के रूप में काम करने वाली पुष्पा देवी को सासनी स्वास्थ्य केंद्र और सादाबाद तहसील के गांव सलेमपुर की आंगनबाड़ी पूनम पाठक को सहपऊ स्वास्थ्य केंद्र पर गुरुवार को कोरोना का टीका लगा था। टीका लगने के बाद दोनों की हालत बिगड़ने लगी। जिसके बाद दोनों को जिला अस्पताल लाया गया। जहां पुष्पा देवी की हालत में सुधार नजर आया, तो वहीं पूनम पाठक की हालत में प्राथमिक उपचार के बाद भी कोई सुधार नहीं दिखा। उनको सांस लेने में तकलीफ के साथ बेचैनी थी। अधिकारियों ने इन आंगनबाड़ी सेविकाओं की स्थिति की जानकारी लेकर दोनों को अलीगढ़ रेफर करवा दिया।

बीपी होने के बाद भी किया वैक्सीनेशन

जितेंद्र कुमार ने बताया कि पत्नी पूनम पाठक आंगनबाड़ी सेविका है, इन्हें आज वैक्सीन लगी थी। उन्होंने कहा कि बीपी की शिकायत होने के बाद भी वैक्सीन लगा दी गई। जिससे इनकी तबीयत बिगड़ गई है।

सांस लेने में हुई परेशानी

वहीं जिला अस्पताल के सीएमएस डॉक्टर आईवी सिंह ने कहा कि ये सांस लेने में परेशानी बता रही थीं। उन्होंने बताया कि वैक्सीन लगने के बाद हल्की-फुल्की परेशानी किसी को भी हो सकती है। इन आंगनबाड़ी सेविकाओं की हालत क्यों बिगड़ी ये तो इनके परीक्षण के बाद ही पता चल सकेगा। फिलहाल इन मरीजों की हालत बिगड़ने से इनके परिवार के लोग बेहद परेशान थे।

यह भी पढ़ें: आसाराम ने बीमार पत्नी की देखभाल के लिए मांगी अस्थायी जमानत

 

Related Articles

Back to top button