श्रद्धालुओं को छठ का गिफ्ट, वाराणसी में 24 घंटे चलेगा रेलवे का नियंत्रण

वाराणसी में 24 घंटे चलेगा रेलवे का नियंत्रण, ज्वलनशील पदार्थ लेकर यात्रा करना वर्जित

वाराणसी: फलवा दउरा सजाके, अईनी हम घाट पे तोहार का यह गीत बिहार सहित पूर्वांचल के राज्यों में गूंज रहा है। आज आस्था का महापर्व छठ का तीसरा दिन है आज के दिन व्रती महिलाएं डूबते हुए सूरज को पहला अर्घ्य देकर संतान के लंबी उम्र के लिए कामना करती है।

पहला छठ पूजा

पहली छठ पूजा बिहार के एतिहासिक नगरी मुंगेर में माता सीता ने किया था। सबूत के रूप में वहां आज भी माता सीता के पांव के निशान मौजूद है। जिसके बाद ही इस महापर्व की शुरुआत हुई और बिहार के साथ देश के कई राज्यों में भी बड़े धूम-धाम के साथ छठ का यह पावन पर्व मनाया जानें लगा है।

वाराणसी में 24 घंटे रेलवे का नियंत्रण

पूर्वोत्तर रेलवे ने छठ पर्व के मद्देनजर यात्रियों की सुविधा के लिए वाराणसी मंडल कार्यालय में एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया है जो 25 नवंबर तक चौबीसों घंटे काम करेगा। नियंत्रण कक्ष स्थापित करने के साथ ही मंडल के स्टेशनों पर सम्भावित यातायात वृद्धि के मद्देजनर महत्वपूर्ण स्टेशनों पर अधिकारीयों एवं कर्मचारियों की अतिरिक्त ड्यूटी लगाई है।

यात्रियों से अपील

मंडल रेल प्रबंधक पंजियार ने रेल यात्रियों से अपील की है कि वे ज्वलनशील पदार्थ लेकर यात्रा न करें। गाड़ियों की छतों एवं पावदान पर लटक कर यात्रा नहीं करें। स्टेशन परिसर एवं गाड़ियों को स्वच्छ एवं साफ-सुथरा रखने में रेलवे प्रशासन को सहयोग करें। उन्होंने यात्रियों से गाड़ियों एवं स्टेशन परिसर में कोविड-19 से बचाव के लिये सरकार द्वारा जारी सुरक्षा मानकों का भी पालन करने की अपील की।

सुविधाओं की निगरानी

जनसंपर्क अधिकारी अशोक कुमार ने बताया कि छपरा जं, सीवान जं एवं बलिया स्टेशनों पर भी किसी भी स्थिति निपटने के लिए नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है, जहां से सम्बंधित अधिकारी एवं वरिष्ठ पर्यवेक्षक छठ पर्व के दौरान आने-जाने वाले यात्रियों की सुविधाओं की निगरानी करेंगे। इसके साथ ही वे स्टेशन की सभी गतिविधियों नजर रखेंगे।

नियंत्रण कक्ष से निगरानी

अशोक कुमार ने बताया कि नियंत्रण कक्ष से 20-25 नवम्बर तक 24 घंटे निगरानी से संबंधित दिशा-निर्देश प्रसारित किये जायेंगे। नियंत्रण कक्ष में वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक रोहित, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक संजीव शर्मा, वरिष्ठ मंडल सिगनल एवं दूरसंचार इंजीनियर त्रयम्बक तिवारी, वरिष्ठ मंडल यांत्रिक इंजीनियर (कैरेज एंड वैगन) सत्यप्रकाश श्रीवास्तव एवं वरिष्ठ मंडल यांत्रिक इंजीनियर (ओ एंड एफ) अलोक केशरवानी समेत मंडलीय एवं सहायक मंडलीय अधिकारी प्रतिनियुक्त किये गये हैं ।

निर्धारित प्लेटफार्म

अधिकारी ने बोला कि इस विशेष अवधि के दौरान रेल गाड़ियों का आगमन अपने निर्धारित प्लेटफार्म से होगा। प्लेटफार्म का परिवर्तन नहीं किया जायेगा। यदि अपरिहार्य परिस्थितियों में परिवर्तन करना पड़ा तो पर्याप्त ठहराव समय देते हुए गाड़ी संचालन कराया जायेगा। संचालन के परिवर्तन की पूर्व सूचना (न्यूनतम 15 मिनट पूर्व) स्टेशन मास्टर द्वारा पूछ-ताछ कार्यालय को देना अनिवार्य होगा। छपरा, सीवान, बलिया एवं गाजीपुर सिटी में अधिक से अधिक आरक्षण काउन्टर निरन्तर कार्य करेंगे। आवश्यकता अनुसार अतिरिक्त काउंटरों से टिकट वितरण की व्यवस्था करायी जाएगी।

कार्यालय से वैकल्पिक व्यवस्था बुकिंग

जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि सी.आई.टी./छपरा एवं सीवान द्वारा पूछ-ताछ खिड़की पर प्रत्येक शिफ्ट में दो-दो कर्मचारियों की प्रतिनियुक्ति की गयी है। जन-संबोधन प्रणाली से तीनों स्टेशनों पर लगातार सूचनाएं प्रसारित की जायेंगी। आवश्यकता पड़ने पर अतिरिक्त कर्मचारियों की वैकल्पिक व्यवस्था बुकिंग कार्यालय से की जाएगी। प्रमुख स्टेशनों पर लगे सभी बी.एस.एन.एल. फोन लगातार कार्यरत रखे जायेंगें।

रेलवे सुरक्षा बल के जवान तैनात

सम्बंधित सभी स्टेशनों पर विद्युत तथा जल की निर्बाध आपूर्ति साफ-सफाई के साथ सुनिश्चित की जाएगी। सम्बंधित सभी स्टेशनों के पैदल उपरिगामी पुल, आगमन एवं प्रस्थान द्वार, बुकिंग विंडो तथा प्लेटफार्मों पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिये पर्याप्त संख्या में रेलवे सुरक्षा बल के जवान तैनात किये गये हैं ।

गाड़ियों के कोच में पर्याप्त जल

छठ के मद्देनजर सभी गाड़ियों के कोच में पर्याप्त जल आपूर्ति, विद्युत प्रकाश व्यवस्था एवं साफ-सफाई विभिन्न विभागों द्वारा सुनिश्चित की जाएगी। सम्बंधित सभी स्टेशनों पर मंडल चिकित्सालय की टीम साफ-सफाई एवं चिकित्सा व्यवस्था हेतु चिकित्सक एवं पैरामेडिकल स्टाफ की ड्यूटी लगायी गयी है।

यह भी पढ़े:दिल्ली में बढते कोरोना मामले से CM योगी चिंतित, बोले ‘प्रदेश में विशेष चौकसी की जरूरत’

यह भी पढ़े:संक्रमण से बचाव के लिए उठाए गए विशेष कदम, दिल्ली से बरेली आने वालों पर नजर

Related Articles

Back to top button