छत्तीसगढ़ कांग्रेस संकट: पार्टी आलाकमान से मिलेंगे CM बघेल

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री पद के रोटेशन की बात को खारिज करने के बावजूद प्रदेश इकाई में अनबन जारी रहने की खबरों के बीच छत्तीसगढ़ के CM भूपेश बघेल शुक्रवार को दिल्ली में कांग्रेस आलाकमान से मुलाकात करेंगे। शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा, “मुझे केसी वेणुगोपाल का संदेश मिला कि मुझे आज दिल्ली में राहुल जी से मिलना है, इसलिए मैं पार्टी आलाकमान से मिलने जा रहा हूं।” उन्होंने आगे कहा, “मुझे दिल्ली बुलाया गया है इसलिए मैं जा रहा हूं… लोग अपने नेता से क्यों नहीं मिल सकते? कुछ लोग बिना आमंत्रण के चले गए हैं।”

गुरुवार को राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे छत्तीसगढ़ कांग्रेस के विधायकों ने देर रात छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया के आवास पर बैठक की। छत्तीसगढ़ में तीन राज्य मंत्रियों सहित पार्टी के कई विधायक राष्ट्रीय राजधानी में कांग्रेस आलाकमान से मिलने के लिए गुरुवार शाम दिल्ली के लिए रवाना हुए थे।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और मंत्री टीएस सिंह देव के साथ दो वरिष्ठ नेताओं के बीच सत्ता संघर्ष को सुलझाने के लिए बैठक करने के बाद बघेल बुधवार शाम दिल्ली से रायपुर लौटे थे। सूत्रों ने बताया कि इससे पहले दिन में एक दर्जन से अधिक कांग्रेस विधायकों और पदाधिकारियों ने रायपुर के न्यू सर्किट हाउस में बैठक की। उन्होंने बताया कि CM शुक्रवार को दिल्ली के लिए रवाना होंगे जबकि टीएस सिंह देव दिल्ली में हैं।

ढाई-ढाई साल के फॉर्मूले पर चल रहा विवाद

छत्तीसगढ़ में CM पद के लिए ढाई-ढाई साल के फॉर्मूले पर इन दिनों विवाद में चल रहा हैं। खबर के मुताबिक राहुल गांधी ने भूपेश बघेल की ताजपोशी के समय टीएस सिंह देव के सामने CM के लिए ढाई-ढाई साल का फॉर्मूला रखा था। इसके हिसाब से भूपेश सरकार का ढाई साल जून में पूरो हो चुके हैं।

यह भी पढ़ें: ISIS के तालिबान, हक्कानी नेटवर्क से हैं संबंध: Amrullah Saleh

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles