IPL
IPL

बर्ड फ्लू(Bird Flu) के बढ़ते ही चिकन के दामों में आई भारी गिरावट, ग्राहक भी हुए कम

चिकन का कारोबार कर रहे व्यापारियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। व्यापारियों का कहना है कि अभी तक चिकन में बर्ड फ्लू की दस्तक नहीं हुई है पर भी ग्राहक में इसका खौफ बढ़ गया है।

नई दिल्ली : कोरोना महामारी के बाद अब देश पर बर्ड फ्लू का संकट घिरता हुआ नजर आ रहा है। पक्षियों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में बर्ड फ्लू (Bird Flu) निकलते ही लोगों की टेंशन बढ़ती हुई नजर आ रही है। ऐसे में चिकन का कारोबार कर रहे व्यापारियों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। व्यापारियों का कहना है कि अभी तक चिकन में बर्ड फ्लू की दस्तक नहीं हुई है पर भी ग्राहक में इसका खौफ बढ़ गया है। इसी वजह से बीते 2 दिनों में ही चिकन का भाव प्रति किलो 45 रुपये तक कम हो गया है। बर्ड फ्लू के दस्तक देते ही चिकन खाने वाले ग्राहकों में भी कमी देखने को मिली है। साथ ही चिकन की सप्लाई में भी काफी कमी आई है।

वहीं गाज़ीपुर में चिकन का कारोबार कर रहे जमील का कहना है कि अभी तक किसी भी पोल्ट्री में बर्ड फ्लू से बीमार मुर्गी सामने नहीं आई है, लेकिन दूसरे पक्षियों के मरने और मीडिया में बर्ड फ्लू की खबरों के चलते चिकन खाने वालों में खौफ पैदा हो गया है

बता दें कि राज्य में बर्ड प्लू ने सभी के रातों की नींद उड़ा रखी है। इस बर्ड प्लू (Bird Flu) के कारण कांगड़ा के पौंग झील में लगभग 1700 प्रवासी पक्षियों की मौत हो गई। मृतक पक्षियों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया था। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में पक्षियों में H5 N1 वायरस मिला है जो कि बर्ड फ्लू (Bird Flu)  की पुष्टि करता है।

स्थानीय प्रशान ने पौंग डैम में मृत पाए गए पक्षियों के सैंपल को जांच के लिए भोपाल भेजा था। जांच में इन पक्षियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं, वन विभाग का कहना है कि इतनी बड़ी संख्या में पक्षियों की मौत के बाद प्रशासन ने ये कदम उठाया था। भोपाल से आई रिपोर्ट में सभी पक्षियों में H5N1 एवियन इनफ्लुंजा के वायरस मिले हैं।

यह भी पढ़ें: राशन कार्ड में गड़बड़ी सही करने में छुट रहा विभाग का पसीन

यह भी पढ़ें: लगतार कौओं की मौतों से बर्ड फ्लू (Bird flu) की आशंका बढ़ी, मचा हड़कंप

Related Articles

Back to top button