मुख्य सचिव मामला : दिल्ली सरकार के कर्मचारी रोज 5 मिनट का मौन रखेंगे

0

नई दिल्ली| दिल्ली सरकार के कर्मचारी ‘अपनी सुरक्षा और गरिमा सुनिश्चित करने के लिए जरूरी कदम उठाए जाने तक’ हर रोज अपने कार्यालयों के बाहर पांच मिनट का मौन धारण करेंगे। आईएएस एसोसिएशन ने गुरुवार को यह ऐलान किया।

दिल्ली सरकार

दोपहर के भोजन के अंतराल के दौरान मौन धारण कर विरोध जताने का यह निर्णय दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर आम आदमी पार्टी के दो विधायकों द्वारा कथित हमला करने के बाद किया गया है। प्रकाश ने आरोप लगाया था कि आप विधायकों ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की उपस्थिति में उनके साथ मारपीट की।

मुख्यमंत्री आवास पर सोमवार रात यह कथित हमला हुआ जहां प्रकाश को आपात बैठक के लिए बुलाया गया था।आईएएस एसोसिएशन ने मंगलवार को कहा था कि नौकरशाह केजरीवाल और उनके मंत्रियों या विधायकों से तबतक नहीं मिलेंगे, या फोन पर बात नहीं करेंगे, जब तक केजरीवाल इस घटना के लिए माफी नहीं मांगते।

एसोसिएशन ने कहा, “दिल्ली सरकार और अन्य संगठनों के कर्मचारी राजनीतिक कार्यकारियों द्वारा विश्वास भंग के कारण पैदा हुई पीड़ा को अपने संबंधित कार्यालयों के बाहर पांच मिनट का मौन धारण कर व्यक्त करेंगे।”

दोनों आप विधायक अमानतुल्ला खान और प्रकाश जरवाल को बुधवार को एक दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया था।

loading...
शेयर करें