Child Marriage रजिस्ट्रेशन विधेयक राजस्थान में पारित, विपक्ष ने किया वॉकआउट

जैसलमेर : राजस्थान ने Child Marriage सहित शादियों के रजिस्ट्रेशन पर एक अधिनियम में संशोधन के लिए एक विधेयक क्या पारित किया सभा में कोहराम मच गया, जिसमें विपक्ष ने विधानसभा से वॉकआउट कर दिया।

Child Marriage विधेयक से बीजेपी नाराज़

इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राजस्थान विधानसभा ने हाल ही में अनिवार्य विवाह पंजीकरण संशोधन विधेयक पारित किया है, जिसके तहत बाल विवाह की जानकारी वर वधु के माता-पिता या अभिभावकों द्वारा शादी के 30 दिन के भीतर दी जानी है। इस दौरान भारतीय जनता पार्टी के विधायकों ने सदन से वाकआउट कर दिया और विधेयक को वापस लेने की मांग की। हालांकि इस पर सफाई देते हुए राज्य की कांग्रेस सरकार ने कहा कि यह विधेयक सुप्रीम कोर्ट के आदेश के आधार पर लाया गया है।

इस कड़ी में बीजेपी विधायक अशोक लाहोटी ने बयान जारी कर कहा कि अगर यह बिल पास हो जाता है तो यह राज्य विधानसभा के लिए एक काला दिन होगा। अब इस विवाह रजिस्ट्रेशन अधिनियम के तहत अगर शादी के वक्त लड़की की उम्र 18 और लड़के की उम्र 21 साल से कम होगी तो माता-पिता को 30 दिन के भीतर रजिस्ट्रेशन अधिकारी को इसकी इत्तला देनी होगी।

यह भी पढ़ें : देश की पहली स्वदेशी लग्जरी cruise liner लांच करेगा आईआरसीटीसी

 

Related Articles