देखिए हुजूर ! दिन भर बच्चे भूखे रहे लेकिन जिम्मेदारों को नहीं आई कोई शर्म

स्कूली बच्चों को दे दिया सड़ा हुआ खाना, गुस्साए छात्रों ने फेंक दिए फूड पैकेट्स

योगी सरकार लाख दावें कर लें की भ्रष्टाचार खत्म हो गया. लेकिन सरकारी स्तर पर होने वाले कार्यक्रम में व्यवस्था के नाम पर केवल घास काटी जाती है. कई बार व्यवस्था देखने वाले इतने लापरवाह हो जाते हैं कि दूसरों की सेहत का भी उन्हें खयाल नहीं रहता. ऐसा ही एक वाकया हरदोई में देखने को मिला. यहां जिला स्तरीय प्रतियोगिता में शामिल बच्चों को सड़ा खाना परोस दिया गया. बच्चों ने जब खाने की हालत देखी तो वे परेशान हो गए और उन्होंने खाना फेंक दिया. इसके बाद दिन भर बच्चे भूखे रहे लेकिन व्यवस्था संभालने वालों को शर्म नहीं आई.

जिम्मेदारों ने बच्चों के पेट पर डाला डाका

दरअसल हरदोई में इन दिनों स्पोर्ट्स स्टेडियम में परिषदीय विद्यालयों की जिलास्तरीय क्रीड़ा प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है. जिसमें जिले के विभिन्न ब्लॉक के बच्चे हिस्सा ले रहे हैं. खेल की आड़ में यहां बेसिक शिक्षा के जिम्मेदार अधिकारियों ने भ्र्ष्टाचार में कोई कसर नहीं छोड़ी. यही वजह रही कि बच्चों के पेट पर भी डाका डालने से नही चूके. बच्चों को गुणवत्तापूर्ण भोजन देना तो दूर, यहां बच्चों को सड़े खाने के पैकेट पकड़ा दिए. इस खाने को देख बच्चों ने भूखा रहना उचित समझा और फूड पैकेट्स को फेंक दिया.

हालांकि कुछ बच्चों ने खा लिया

स्पोर्ट्स स्टेडियम में आयोजित प्रतियोगिता में मासूम बच्चों को दिए गए खाने में आलू की बासी सब्जी थी. ऐसे में कुछ बच्चों ने जैसे तैसे भूख शांत करने के लिए यह खा ली. वहीं कुछ बच्चों ने खाना फेंकना शुरू ​कर दिया जिससे परिसर में खाने के ​डब्बे ही डब्बे नजर आने लगे. खाना फेंकने के बाद बच्चों को भूखा रहना पड़ा लेकिन जिम्मेदारों ने इस ओर ध्यान ही नहीं दिया. इतना ही नहीं कार्यक्रम में शामिल मेहमानों को अच्छा भोजन परोसा गया लेकिन बच्चों के लिए उपयुक्त व्यवस्था करना जरूरी नहीं समझा.

यह भी पढ़ें- सावधान ! कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ, PM मोदी के दौरे से पहले UP के इस बड़े अफसर को हुआ कोरोना

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles