डोकलाम विवाद के बीच चीन के बदले सुर, पीएम मोदी की तारीफ में बांधे पुल

0

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच लंबे वक्त से विवाद चल रहा है। इन्हीं सब के बीच एक बहुत हैरान कर देेने वाली बात सामने आई है। चीन ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है। डोकलाम को लेकर चल रहे विवाद के बीच चीन का यह बयान हैरान करता है।

ये भी पढ़ें : डोकलाम विवाद: चीनी अधिकारियों का भारत के खिलाफ बड़ा बयान, दी धमकी

चीनी मीडिया ने अपने लेख में की पीएम मोदी की तारीफ

चीन की न्यूज एजेंसी सिन्हुआ न्यूज द्वारा जारी बयान में चीन ने कहा, “भारत लगातार विदेशी निवेश को आकर्षित कर रहा है। भारत ने निवेश के लिए सकारात्मक महौल बना लिया है और पिछले दो सालों में यह प्रत्यक्ष विदेशी निवेश का सबसे बड़ा स्थान बन गया है।”

इसमें आगे कहा गया कि “भारत और चीन के बीच व्यापार संबंध बढ़ाना और भारत की खुली व्यापार नीति के समर्थन निश्चित तौर पर खुले वैश्विक व्यापार को बढ़ावा देने और सुरक्षावाद को बढ़ावा देने में योगदान करते हैं।”

लेख में आगे ये भी कहा गया है कि “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने सक्रिय विदेश नीति लागू की है, जिससे विदेशी निवेश नीति में सुधार किया गया और घरेलू उद्यमों को अंतरराष्ट्रीय बाजार में पहुंचने के लिए प्रोत्साहित किया है।”

अपवाद के रूप में देखा जा रहा है ये लेख

इसमें आगे कहा गया है, ‘विभिन्न अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर दोनों विकासशील राष्ट्रों का रुख एक समान है। इसमें पेरिस जलवायु समझौते का उदाहरण दिया गया है।

डोकलाम को लेकर भारत के खिलाफ उकसावे भरे बयानों के बीच शिन्हुआ में प्रकाशित यह लेख एक अप्रत्याशित अपवाद के रूप में देखा जा रहा है। इससे पता चलता है कि बीजिंग वैश्विक वित्तीय संस्थानों में उभरते राष्ट्रों को अधिक अधिकार दिए जाने, वैश्विकरण विरोधी रुख का विरोध करने सहित उन तमाम मुद्दों पर भारत से साथ चाहता है, जो उसे अपने हित में दिखते हैं।

जानिए क्या है डोकलाम विवाद

बता दें, चीनी मीडिया डोकलाम को लेकर लगातार भारत को धमकी दे रहा है। चीन डोकलाम में अपना कब्जा जामाना चाहता है। जिसके लिए उसने डोकलाम में रोड बनाने का काम शुरू किया था। जिसे बाद में भारतीय सेना ने रोक दिया। वहीं मीडिया में आई कुछ रिपोर्टों के मुताबिक, भारत डोकलाम में अपनी अग्रिम चौकी लालटेन पर स्थिति मजबूत कर रहा है।

गौरतलब है कि 27 और 28 जुलाई को चीन में ब्रिक्स देशों के एनएसए की बैठक होनी है। भारतीय एनएसए अजीत डोभाल भी इस बैठक में हिस्सा लेंगे।

loading...
शेयर करें