भारत बंद: ओडिशा में सामान्य जनजीवन पर पड़ा असर, कांग्रेसी कार्यकर्ता गिरफ्तार

0

भुवनेश्वर: ईंधन में बेतहाशा वृद्धि के विरोध में कांग्रेस व अन्य विपक्षी पार्टियों द्वारा बुलाए गए भारत बंद से ओडिशा में सामान्य जनजीवन पर असर पड़ा है। भुवनेश्वर सहित राज्य के अन्य जगहों पर प्रदर्शन कर रहे सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है। कई जगहों पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा सड़क जाम करने से सड़क यातायात पर असर पड़ा है।

पूरे भारत में बंद की वजह से ट्रेन सेवा भी प्रभावित हुई है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भुवनेश्वर, कटक, संबलपुर, राउरकेला, बालांगीर और भद्रक में रेल रोको प्रदर्शन किया।

पूर्वी तटीय रेलवे ने राज्य में 12 ट्रेनों को स्थगित कर दिया है।

बंद की वजह से बीजू पटनायक यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी (बीपीटीयू) में सभी व्यावसायिक पाठ््यक्रमों की परीक्षाएं रद्द कर दी है, वहीं स्कूलों व कॉलेजों को बंद रखा गया है।

पुरी के कोणार्क मंदिर में पर्यटक अंदर नहीं जा सके, क्योंकि कांग्रेस और माकपा कार्यकर्ताओं ने टिकट काउंटर बाधित कर दिया है।

एनएच 316 के पास कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा मार्ग अवरुद्ध करने की वजह से तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के वरिष्ठ नेता सुदीप बंदोपाध्याय को पिपली में रोक दिया गया।

भुवनेश्वर में वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने अन्य पार्टी नेताओं के साथ कई जगहों पर प्रदर्शन किया और सड़क मार्ग को अवरुद्ध कर दिया।

ओडिशा प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष निरंजन पटनायक और सैकड़ों पार्टी कार्यकर्ताओं ने ओडिशा विधानसभा के पास प्रदर्शन किया।

ईंधन की बढ़ती कीमतों के विरुद्ध विधानसभा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के हंगामे के बाद अध्यक्ष पी.के. अमात को सदन स्थगित करना पड़ा।

निरंजन पटनायक ने कहा,”बंद का आयोजन ओडिशा में शांतिपूर्वक तरीके से किया जा रहा है। ओडिशा के लोगों ने बंद को अपना समर्थन दिया है। ईंधन की बढ़ती कीमतों ने पूरे देश में आम लोगों को प्रभावित किया है। नरेंद्र मोदी की अगुवाई में केंद्र सरकार औद्योगिक घरानों का साथ दे रही है।”

दूसरी तरफ भाजपा ने कहा कि ईंधन की कीमतों में वृद्धि डॉलर की तुलना में रुपये के लुढ़कने और अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में वृद्धि की वजह से हो रही है।

भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष समीर मोहंती ने कहा,”राज्य सरकार को आम लोगों को राहत पहुंचाने के लिए पेट्रोल व डीजल पर राजस्थान सरकार की तरह वैट घटाना चाहिए।”

loading...
शेयर करें