काल डिटेल से लगा सुराग, मिलने के बहाने से हुई लखनऊ के स्पोर्ट्स कालेज के छात्र की हत्या

सुलतानपुर: यूपी के सुलतानपुर शहर के कादीपुर इलाके के रानीपुर कायस्थ गांव में छात्र आयुष शुक्ल की तीन युवकों ने हत्या कर दी थी, थाने में शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने तीनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। हत्याकांड के विरोध में मंगलवार को कादीपुर तहसील के स्टांप बेंडर, दस्तावेज लेखक व वकील कार्य से विरत रहे।

इससे विभागीय कार्य प्रभावित रहा

जानकारी के मुताबिक, आयुष का एक वर्ष पहले लखनऊ के स्पोर्ट्स कालेज में चयन हुआ था। कोरोना काल के चलते विद्यालय बंद होने पर वह अपने घर में ही रहता था। उसके पिता महेंद्र शुक्ला लखनऊ स्थित एक प्राइवेट कांस्ट्रक्शन कंपनी में बतौर सुपरवाइजर तैनात हैं।

मिलने के बहाने हत्या

कादीपुर इलाके के रानीपुर कायस्थ गांव में छात्र आयुष को सोमवार की सुबह 11 बजे किसी ने कॉल करके गांव के बाहर बाग में मिलने के लिए बुलाया था। लंबे समय के इंतजार करने के बाद जब वह वापस नही लौट तो परिजनों ने खोजबीन शुरू की। तभी एक बच्चे ने बताया कि खून से लथपथ एक व्यक्ति का शव बाग किनारे स्थित नलकूप में पड़ा हुआ है।

ये खबर मिलते ही आनन-फानन में घरवालों घटनास्थल पर जाकर देखा तो आयुष का सजीव पड़ा था। उसके गले व सीने पर कई जगह धारदार हथियार से हमला किया गया था।

काल डिटेल से लगा सुराग

क्षेत्राधिकारी (CO) डा. कृष्णकांत सरोज ने बताया कि मृत छात्र के गायब मोबाइल की काल डिटेल निकलवाई गई। जांच पड़ताल में पता चला है कि तीन युवकों द्वारा आयुष की हत्या की गई, जिन्हें हिरासत में लिया गया है। हालांंकि हत्या किस वजह से की गई इस बात की जानकारी उनकी तरफ से नहीं दी गई। सभी से पूछताछ चल रही है, जल्द ही घटना का राजफाश कर दिया जाएगा।

Related Articles