CM केजरीवाल बोले- ‘पिछले साल के मुकाबले इस बार बजट ज्यादा है’, जानें Budget की मुख्य बातें

दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल, दिल्ली सरकार के बजट पेश होने पर कहा कि पिछला एक साल बहुत मुश्किल गुजरा था

नई दिल्ली: दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल, दिल्ली सरकार (Delhi Government) के बजट (Budget) पेश होने पर कहा कि पिछला एक साल बहुत मुश्किल गुजरा था। सरकार के खर्चें बढ़ गए थे और आमदनी घट गई थी। मुझे खुशी है कि पिछले साल के मुकाबले इस बार बजट ज्यादा है। हर क्षेत्र के लिए नई योजनाएं लाई गई हैं। सभी तबकों के लिए बजट में प्रावधान किया गया है।

 

मनीष सिसोदिया ने पेश किया बजट

राजधानी दिल्ली (Delhi) के उपमुख्यमंत्री और वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) दिल्ली का पहला ई-बजट (E-Budget) विधानसभा में पेश किया। विधानसभा पहुंचने से पहले मनीष सिसोदिया ने हनुमान मंदिर में पूजा भी की। उन्होंने कहा कि कहा कि मैं 2021-22 के लिए 69,000 करोड़ रुपये का बजट प्रस्तावित कर रहा हूं। ये 2014-15 में 30,940 करोड़ रुपये की बजट राशि से दोगुने से ज्यादा है। दिल्ली सरकार का प्रति व्यय 2015-16 के 19,218 रुपये से बढ़कर इस साल 33,173 रुपये होने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ेPetrol और Diesel के टैक्स कलेक्शन से सरकार की बल्ले-बल्ले, आम जनता बेहाल

बजट की मुख्य बातें-

  1. मनीष सिसोदिया ने कहा कि आजादी के 75वें वर्ष पर दिल्ली सरकार अपने स्कूलों में पढ़ रहे हर बच्चे को देशभक्ति के रंग में रंगने के लिए देशभक्ति पाठक्रम की शुरुआत करने जा रही है। इसके तहत हर रोज एक कक्षा देशभक्ति की होगी।
  2. मैं 2021-22 के लिए दिल्ली के स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए 9,934 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान करता हूं जो कुल बजट का 14% है। दिल्ली सरकार ने निर्णय लिया है कि दिल्ली के लोगों को सरकारी अस्पतालों में कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) ‘मुफ्त’ में लगाई जाएगी।
  3. दिल्ली के वित्त मंत्री ने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि साल 2047 तक दिल्ली के नागरिक की प्रति व्यक्ति आय सिंगापुर में बैठे नागरिक के प्रति व्यक्ति आय के बराबर हो जाए।

यह भी पढ़ेInternational Women’s Day : शिव की भक्ति में लीन हुईं 1000 महिलाएं, दीयों की रौशनी से जगमगाया Kashi

Related Articles