स्ट्रॉबेरी की खेती को बढ़ावा देने वाली कुमारी गुरलीन चावला से मिले सीएम

लखनऊ: बुन्देलखण्ड क्षेत्र में स्ट्रॉबेरी की खेती को बढ़ावा दे रही कुमारी गुरलीन चावला ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की. सोमवार को सीएम योगी के सरकारी आवास पर उनसे मिलने पहुंची गुरलीन के प्रयासों की सीएम ने जमकर सराहना की. सीएम ने कहा कि गुरलीन ने अपने संकल्प और परिश्रम से  झांसी की धरती को स्ट्रॉबेरी की खेती के अनुकूल बनाया है.

किसानों को प्रोत्साहित करने की मांग 

मुख्यमंत्री ने गुरलीन चावला से बुन्देलखण्ड क्षेत्र के किसानों को कृषि विविधीकरण के इस  प्रयास में जागरूक करने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि जैविक खेती को प्रोत्साहित किया जाना आवश्यक है. कृषि उत्पाद को ऑर्गेनिक प्रमाणित करने के लिए मण्डल स्तर पर प्रयोगशाला की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि इससे जैविक खेती को बढ़ावा मिलेगा.

स्ट्रॉबेरी की खेती से किसान और बाजार को फायदा

उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड क्षेत्र में स्ट्रॉबेरी की खेती के लगातार बढ़ने से बाजार और किसान दोनों को ही काफी फायदा पहुंचेगा. सीएम ने कहा कि इससे जहां एकतरफ किसानों की आमदनी बढ़ेगी, तो वहीँ दूसरी तरफ ‘स्ट्रॉबेरी महोत्सव’ जैसे आयोजनों से बाजार की जरूरतों को भी पूरा करने में मदद मिलेगी. इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सुल्तानपुर में ड्रैगन फ्रूट की खेती और झांसी में स्ट्रॉबेरी की खेती का उल्लेख करते हुए कहा कि किसानों ने अपने परिश्रम से ऐसी फसलें उगाईं, जिनके बारे में यह धारणा थी कि वे स्थानीय जलवायु और भूमि के अनुकूल नहीं हैं.

व्यापक प्रचार-प्रसार करने का निर्देश

उन्होंने उद्यान विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस प्रकार के प्रगतिशील प्रयासों का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए. अधिक से अधिक किसानों को इससे जोड़ा जाए. उन्होंने इन उत्पादों की मार्केटिंग और प्रोसेसिंग की व्यापक व्यवस्था किए जाने के निर्देश भी दिए.

गुरलीन चावला ने झांसी में स्ट्रॉबेरी की खेती का सफल प्रयोग किया. विगत 17 जनवरी को मुख्यमंत्री ने झांसी में आयोजित ‘स्ट्रॉबेरी महोत्सव’ का वर्चुअल माध्यम से शुभारम्भ करते हुए कहा था कि बुन्देलखण्ड की धरती पर स्ट्रॉबेरी महोत्सव का आयोजन देश व प्रदेश के लिए नया सन्देश है.

यह भी पढ़ें: ममता सरकार ने बजट 2021 को बताया फर्जी, कहा- इसकी थीम है ‘सेल इंडिया’

Related Articles

Back to top button