सीएम शिवराज का बड़ा फैसला, होशंगाबाद का बदला नाम, BJP नेताओं में खुशी की लहर

होशंगाबाद नामक शहर का नाम बदलकर नर्मदापुरम करने की घोषणा कर दी गई है।

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के द्वारा शहरों का नाम बदलना तो आम बात है लेकिन अब मध्य प्रदेश ( Madhya Pradesh ) में भी नाम बदलने की शुरुआत हो चुकी है। होशंगाबाद ( Hoshangabad ) नामक शहर का नाम बदलकर नर्मदापुरम ( Narmadapuram ) करने की घोषणा कर दी गई है।

आपको बता दे कि मध्य प्रदेश में नर्मदा जयंती महोत्सव के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ( Shivraj Singh Chauhan ) ने होशंगाबाद का नाम नर्मदापुरम किए जाने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि जल्द ही केंद्र को होशंगाबाद का नाम बदलने के लिए प्रस्ताव भेजा जाएगा।

शिवराज
शिवराज

BJP नेताओं में खुशी की लहर 

सीएम की इस घोषणा के बाद बीजेपी नेताओं में खुशी की लहर है।
बता दें कि साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर और प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने होशंगाबाद का नाम नर्मदापुरम किए जाने की मांग की थी।

दोनों बीजेपी नेताओं ने कहा था कि ‘कब तक लुटेरे हुशंगशाह के नाम से होशंगाबाद को पहचाना जाए? जिस लुटेरे ने हमारे मठ-मंदिर तोड़े, भगवान भोले के मंदिर भोजपुर का शिखर तोड़ा उसके नाम से नगर का नाम मंजूर नहीं।

होशंगाबाद
होशंगाबाद

नाम बदलने के लिए हो रही थी राजनीति

बीजेपी नेताओं ने आगे कहा था कि ‘मोक्ष दायिनी पुण्य सलिला मां नर्मदा जिनके दर्शन मात्र से पुण्य मिलता हो, जिनके आशीर्वाद से मध्य प्रदेश के खेत लहलहाते हों उनके नाम से नगर पहचाना जाना चाहिए। शिवराज सरकार ने पहले ही संभाग का नाम नर्मदापुरम संभाग रखा है। दरअसल, मध्य प्रदेश की राजनीति में इन दिनों शहरों और ऐतिहासिक जगहों के नाम बदलने की मांग पर जमकर राजनीति हो रही है।

सूबे की सत्ता पर काबिज बीजेपी के नेता चुन-चुन कर ऐतिहासिक जगहों और शहरों के नाम बदलने की मांग कर रहे हैं। भोपाल का ईदगाह हिल्स, इकबाल मैदान, हबीबगंज स्टेशन और होशंगाबाद वो जगहें हैं जिनके नाम बदलने की मांग ने इन दिनों जोर पकड़ा हुआ है।

यह भी पढ़ें: Corona Update: महाराष्ट्र में 6,112 नए COVID-19 के मामले, जानें देश में संक्रमण का आंकड़ा

Related Articles

Back to top button