CM तीरथ सिंह रावत शपथ ग्रहण करने के बाद बोले- आम जनता के सुख-दुख में मैं खड़ा रहूंगा

उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने शपथ ग्रहण करने के बाद बोला कि केंद्र नेतृत्व ने मुझ पर विश्वास दिखाया है। मैं केंद्र नेतृत्व का दिल से धन्यवाद करना चाहता हूं

उत्तराखंड: उत्तराखंड (Uttarakhand) के नए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत (Tirath Singh Rawat) ने शपथ ग्रहण करने के बाद बोला कि केंद्र नेतृत्व ने मुझ पर विश्वास दिखाया है। मैं केंद्र नेतृत्व का दिल से धन्यवाद करना चाहता हूं। प्रधानमंत्री जी ने जो कहा है कि सबका साथ, सबका विश्वास, सबका विकास उसको लेकर हम आगे बढ़ेंगे। आम जनता के सुख-दुख में मैं खड़ा रहूंगा। तीरथ सिंह रावत गढ़वाल के सांसद है।

कौन है तीरथ सिंह रावत?

तीरथ सिंह रावत (Tirath Singh Rawat) भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के संबंधित राजनीतिज्ञ है। इन्होंने 10 मार्च 2021 को मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की है। वह फरवरी 2013 से दिसंबर 2015 तक उत्तराखंड भाजपा (BJP) के प्रदेश अध्यक्ष थे और चौबट्टाखाल से भूतपूर्व विधायक (2012-2017) है, तीरथ सिंह रावत भाजपा के राष्ट्रीय सचिव के साथ साथ गढ़वाल लोकसभा से सांसद भी हैं। पौड़ी सीट से भाजपा के उम्मीदवार के अतिरिक्त 2019 के लोकसभा चुनाव में उन्हें हिमाचल प्रदेश का चुनाव प्रभारी भी बनाया गया था। सीएम तीरथ सिंह रावत का जन्म सीरों, पट्टी असवालस्यूं पौड़ी गढ़वाल, उत्तराखण्ड में हुआ था। उनके पिता श्री कलम सिंह रावत थे।

उत्तराखण्ड के प्रथम शिक्षा मंत्री

सीएम तीरथ सिंह रावत भारतीय भारतीय जनता पार्टी से संबंधित राजनीतिज्ञ है। वर्ष 2000 में नवगठित उत्तराखण्ड के प्रथम शिक्षा मंत्री चुने गए थे। इसके बाद 2007 में भारतीय जनता पार्टी उत्तराखण्ड के प्रदेश महामंत्री चुने गए तत्पश्चात प्रदेश चुनाव अधिकारी तथा प्रदेश सदस्यता प्रमुख रहे। 2013 उत्तराखण्ड दैवीय आपदा प्रबंधन सलाहकार समिति के अध्यक्ष रहे, वर्ष 2012 में चौबटाखाल विधान सभा से विधायक निर्वाचित हुए और वर्ष 2013 में उत्तराखण्ड भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बने। इससे पूर्व वर्ष 1983 से 1988 तक राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रचारक रहे, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (उत्तराखण्ड) के संगठन मंत्री और राष्ट्रीय मंत्री रहे।

यह भी पढ़ेICC में कुछ ठीक नहीं, मुख्य कार्यकारी अधिकारी को भेजा गया छुट्टी पर

छात्र संघ मोर्चा से प्रदेश उपाध्यक्ष

हेमवती नंदन गढ़वाल विश्व विधालय में छात्र संघ अध्यक्ष और छात्र संघ मोर्चा (उत्तर प्रदेश) में प्रदेश उपाध्यक्ष भी रहे। इसके बाद भारतीय जनता युवा मोर्चा (उत्तर प्रदेश) के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य रहे। इसके बाद 1997 में उत्तर प्रदेश विधान परिषद् के सदस्य निर्वाचित हुए तथा विधान परिषद् में विनिश्चय संकलन समिति के अध्यक्ष बनाये गए। 10 मार्च 2021 को तीरथ सिंह रावत उत्तराखंड के 10वें मुख्यमंत्री बने।

यह भी पढ़े5 जवान बच्चे, उम्र 60 साल, फिर भी दूसरी शादी को बेताब शख्स बिजली के खम्बे पर चढ़ गया

Related Articles