‘आशा’ यात्रा में सीएम देंगे सद्भाव का संदेश

0

asha yatraकानपुर। भाईचारा, समानता, लाइफ स्टाइल, नारी सशक्तिकरण, स्वास्थ्य, शिक्षा एवं युवाओं की ग्रोथ का संदेश देने वाली आशा यात्रा अपनी सालगिरह शहर में मनाएगी। 12 जनवरी को होने वाली सालगिरह में मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे। इस आयोजन को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। डीएम ने भी लोगों से बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने की अपील की है।

क्या है आशा यात्रा

मानव एकता मिशन के नेतृत्व में शांति व सद्भाव का संदेश देने के लिए कन्याकुमारी से कश्मीर तक 7500 किलोमीटर की पद यात्रा पिछले वर्ष 12 जनवरी को शुरू हुई थी। यह यात्रा 15 से 18 महीनों में 11 राज्यों से गुजरेगी। इस दौरान करीब एक करोड़ लोगों को सदभाव का सन्देश दिया जायेगा। यात्रा का आरम्भ कन्या कुंमारी के गांधी स्मारक मण्डप से हुआ था। समापन कश्मीर में होगा।

यात्रा की कार्यशैली

रोज 20 से 25 किलोमीटर पैदल यात्रा होती है। हर दिन किसी गांव व शहर में करते हैं विश्राम। सभी सम्प्रदाय के लोगों से मुलाकात करते हैं। शामिल लोग सहभोज, चर्चा और मन्थन में भी लेते हैं भाग। हर वर्ग के लोगों को सद्भाव के लिए प्रेरित करते हैं।

यात्रा का कार्यक्रम

7 जनवरी को फतेहपुर के रास्ते रूमा से शहर प्रवेश, 8 जनवरी को सुबह 9 बजे रूमा से चलकर 12 बजे रामदेवी पहुंचेगी 9 जनवरी को नानाराव पार्क से जेके मन्दिर तक यात्रा निकाली जायेगी 10 जनवरी को राजेंद्र स्वरूप आडिटोरियम में जन संवाद का आयोजन होगा और 11 जनवरी को गर्ल्स कालेज की छात्राओं से संवाद होगा। इसके बाद 12 जनवरी को अल्बर्ट हॉउस से ग्रीनपार्क तक यात्रा में मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे तथा 13 जनवरी को पदयात्रा कालपी रोड से कानपुर देहात प्रस्थान करेगी।

 

loading...
शेयर करें