सपा-बसपा के गठबंधन पर सीएम योगी आदित्यनाथ का बड़ा हमला, कहा-…

0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में लोकसभा के दो सीटों के लिए होने वाले उपचुनाव को लेकर बसपा ने सपा को समर्थन देने का ऐलान किया है। बसपा के इस ऐलान के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने दोनों पार्टियों पर तंज कसा है। योगी ने रविवार को भाजपा के प्रदेश मुख्यालय पर आयोजित प्रेसवार्ता में कहा कि ‘कह रहीम कैसे निभे, केर-बेर को संग’।

योगी आदित्यनाथ

मीडिया से बात करते हुए सीएम योगी से जब पूछा गया कि वह यूपी में समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की बढ़ रही नजदीकियों को किस रूप में देखते हैं। इस पर उन्होंने कहा कि ‘कह रहीम कैसे निभे, केर-बेर को संग)। जिस तरह केर और बेर एक साथ नहीं रह सकते, उसी तरह नजदीक आने का प्रदर्शन कर रहे दोनों दलों की दूरियां कम नहीं हो सकतीं।

जब उनसे पूछा गया कि इसमें कौन केर है और कौन बेर है तो उन्होंने कहा कि स्टेट गेस्ट हाउस कांड किसने करवाया था। लखनऊ में बने स्मारकों को ध्वस्त करने की चेतावनी कौन दे रहा था। यह साफ है कि दोनों में एक केर है और एक बेर। उन्होंने कहा कि केर और बेर एक साथ नहीं रह सकते।

आपको बता दें कि गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटें योगी आदित्यनाथ और केशव प्रसाद मौर्य के इस्तीफे के बाद खाली हुई हैं। दोनों नेता लोकसभा से इस्तीफा देकर उत्तर प्रदेश विधानसभा के सदस्य बन चुके हैं। गोरखपुर की सीट योगी आदित्यनाथ के लिए इसलिए जरुरी है क्योंकि इस इसपर सालों उनका अधिकार रहा है और सीएम बनने के बाद उनके लिए ये परीक्षा की भी घड़ी है।

वहीँ अखिलेश यादव के लिए एक बार फिर खुद को साबित करने के लिए इन दोनों सीटो पर कब्ज़ा करना जरुरी है। बसपा भी इसी ताक में लगी है। गोरखपुर और फूलपुर में  11 मार्च को मतदान होगा। जबकि 14 मार्च को परिणाम घोषित किये जायेंगे।

loading...
शेयर करें