CM योगी आदित्यनाथ बोले, ‘किसी कठमुल्ले के फतवों से नहीं, संविधान से चलेगा देश’

CM योगी ने कहा कि किसी कठमुल्ले के कहने पर फतवा जारी करवा तीन तलाक जैसी कुप्रथा का समर्थन कांग्रेस और राजद के लोग करते थे। फतवा जारी करवाने के लिए कठमुल्लों के पास नाक रगड़ने जाते थे कांग्रेस और राजद के लोग।

लखनऊ: यूपी के CM योगी आदित्यनाथ ने कट्टरपंथियों के खिलाफ सीधा हमला बोलते हुये गुरुवार को कहा कि देश फतवे के अनुसार नहीं बल्कि संविधान के अनुसार चलेगा।

बिहार के वैशाली में आयोजित चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुये CM योगी ने कहा कि किसी कठमुल्ले के कहने पर फतवा जारी करवा तीन तलाक जैसी कुप्रथा का समर्थन कांग्रेस और राजद के लोग करते थे। फतवा जारी करवाने के लिए कठमुल्लों के पास नाक रगड़ने जाते थे कांग्रेस और राजद के लोग। अब समय बदल गया है। योगी ने भीड़ से भी पूछा “आप बताइये ये देश फतवों से चलेगा या संविधान से।”

बिहार अपने नौजवानों की प्रतिभा के लिये जाना जाता है

सिवान, वैशाली और मधुबनी के विधानसभा क्षेत्रों में प्रचार करने पहुँचे श्री योगी ने कहा कांग्रेस और राजद फिर से जंगलराज स्थापित करना चाहते हैं। बिहार अपने युवाओं की ऊर्जा और नौजवानों की प्रतिभा के लिये जाना जाता है। भाजपा ने कश्मीर से धारा 370 को सदैव के लिये समाप्त कर दिया गया है और अब इस देश की धरती से नक्सलवाद को उखाड़ के फेंक देगी।

पूछा, ये देश फतवों से चलेगा या संविधान से ?

कांग्रेस, राजद और उसके सहयोगी दलों पर बरसते हुये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के लोग नहीं चाहते कि नारी गरिमा की रक्षा हो और इसीलिये हमेशा किसी कठमुल्ले के कहने पर तीन तलाक जैसी कुप्रथा का समर्थन करते हुये फतवा जारी होता था। कांग्रेस और राजद के लोग नाक रगड़ कर वहां जाते थे और कहते थे कि ये जो फतवा जारी हुआ है अब इसी के अनुसार देश चलेगा। लेकिन आप बताये ये देश फतवों से चलेगा या संविधान से।

उन्होने कहा कि 15 वर्ष पहले कांग्रेस और राजद ने बिहार में जातिवाद और परिवारवाद के नाम पर राजनीति कर जंगलराज को बढावा दिया। जातिवादी और परिवारवादी पार्टियों ने बिहार को युवाओं की ऊर्जा को, प्रतिभा को पूरी तरह से बन्द करने का काम किया जो इस बिहार की पहचान है, आज दुनिया इसकी गवाह है।

गरीब कल्याण रोजगार योजना की शुरुआत बिहार से

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व भाजपा सरकार ने गरीबों के, महिलाओं के, किसानों के और नौजवानों के हित के लिये काम किया। गरीबों के लिए गरीब कल्याण रोजगार योजना की शुरुआत बिहार से हुई। छह वर्षों के दौरान देश में तीन करोड़ गरीबों को आवास, चार करोड़ को विद्युत कनेक्शन, आठ करोड़ को रसोई गैस कनेक्शन, 10 करोड़ को एक-एक शौचालय, 12 करोड़ किसानों को किसान सम्मान निधि, 15 करोड़ नौजवानों को प्रधानमन्त्री मुद्रा योजना के तहत आर्थिक स्वावलम्बन का लाभ, 35 करोड़ गरीबों का जनधन खाता और 50 करोड़ गरीबों को 05 लाख सालाना आयुष्मान भारत में स्वास्थ्य बीमा का कवर देने का काम प्रधानमंत्री मोदी ने किया।

ये भी पढ़ें : सोशल मीडिया पर वन्य-प्राणी अवयवों की अवैध तस्करी करने वाले 3 गिरफ्तार

एक देश में दो विधान, दो प्रधान, दो निशान नहीं चलेंगे : CM योगी

इसके साथ ही वृद्धावस्था पेंशन योजना, निराश्रित पेंशन योजना और दिव्यांग पेंशन योजना के अन्तर्गत सभी के खाते में अग्रिम राशि भी उपलब्ध करायी । उन्होने कहा कि भाजपा 1952 से नारे लगाती थी कि एक देश में दो विधान, दो प्रधान, दो निशान नहीं चलेंगे, नहीं चलेंगे और आज श्री मोदी नेतृत्व में एक भारत श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना का कार्य लगातार दिखाई दे रहा है। लेकिन कांग्रेस और राजद ने देश के संसाधनों पर एक वर्ग विशेष को अधिकार दे दिया। हमारे लिये जनता ही परिवार है लेकिन उनके लिये परिवार ही पार्टी और पार्टी ही बिहार है।

हम हमेशा कहते थे ‘रामलला हम आएंगे, मंदिर वहीँ बनाएंगे’

उन्होने कहा कि आज पीएम मोदी के नेतृत्व में 95 फीसदी नक्सलवाद समाप्त हुआ है। इस कोरोना के आगे दुनिया की बड़ी बड़ी ताकतें पस्त हो गईं, लेकिन श्री मोदी के नेतृत्व में भारत ने कोरोना से मजबूती से लड़ा है। हम हमेशा कहते थे ‘रामलला हम आएंगे, मंदिर वहीँ बनाएंगे’, राम मंदिर की राह में बाधा यही कांग्रेस, राजद, और भाकपा माले थे लेकिन हमने वादा किया था कि भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर भी बनवाएंगे मित्रों 05 अगस्त को ये भी काम हो गया, बिहार में एनडीए की सरकार बनाएंगे तो हम भगवान राम के दर्शन भी करवाएंगे।

राजद के पोस्टर में चार लोगों को छोड़ पांचवें को जगह नहीं

CM योगी ने कहा कि ये वही लोग हैं जो कभी परिवार वाद के बाहर जा ही नहीं सकते। इनके लिये केवल इनका परिवार ही देश है। दोनों राजनैतिक दल नहीं परिवार हैं। राजद के पोस्टर में भी कभी चार लोगों को छोड़ किसी पांचवें को जगह नहीं मिली। इन लोगों ने तो गरीबों के साथ-साथ जानवरों का चारा भी डकार लिया। ऐसे लोगों से बचें और नित्य निरन्तर विश्वास के साथ प्रगति पथ पर बढ़ते हुये बिहार को एक अच्छे प्रतिनिधि को चुनाव जिताकर अच्छी पार्टियों के हाथ में प्रदेश की बागडोर सौंपे।

ये भी पढ़ें : यूपी स्मार्ट मीटर घोटाले की सीबीआई जांच हो, आम आदमी पार्टी ने की मांग

Related Articles

Back to top button