इस वजह से योगी के माथे पर आई शिकन, बोले- यही है विकास की राह में सबसे बड़ा रोड़ा

0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जनसंख्या का स्थिरीकरण करके ही समाज की बुनियादी आवश्यकताओं को पूरा किया जा सकता है। योगी ने कहा कि वर्तमान में जनसंख्या की बेतहाशा वृद्घि एक ज्वलंत समस्या है।

बागपत: रेप पीड़ित ‘कुतिया’ की फोटो लेकर दर-दर ढूंढ रही पुलिस

योगी आदित्यनाथमुख्यमंत्री ने बुधवार को यहां अपने सरकारी आवास पर विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर ‘जागरूकता रैली’ को हरी झंडी दिखाई और इस अवसर पर उन्होंने कहा, “जनसंख्या वृद्घि जैसे महत्वपूर्ण विषय पर जनसामान्य को जागरूक किया जाना आवश्यक है। ”

इस अवसर पर उन्होंने जनसंख्या स्थिरता पखवारा का भी शुभारंभ किया।

उप्र : घर से भागे प्रेमी जोड़े ने जहर खाकर दी…

मुख्यमंत्री ने कहा, “बढ़ती जनसंख्या के कारण समाज में एक असंतुलन की स्थिति पैदा हो गई है। इस असंतुलन को समाप्त करने के लिए समाज के सभी वगरें की सहभागिता जरूरी है। आम लोगों को बेहतर शिक्षा, चिकित्सा, शुद्घ पेयजल, स्वच्छ वातावरण, अच्छी सड़क जैसी बुनियादी सुविधाएं मिल सके इसके लिए जनसंख्या नियंत्रण जरूरी है।

उन्होंने कहा कि कुपोषण मुक्त समाज की स्थापना के लिए आवश्यक है कि जागरूकता कार्यक्रम को जन-जन तक पहुंचाने के लिए गोष्ठियों का आयोजन किया जाए।

कार्यक्रम के अन्त में मुख्यमंत्री ने हस्ताक्षर अभियान की भी शुरूआत की जिस पर लोगों ने हस्ताक्षर कर प्रदेशवासियों को स्वस्थ एवं खुशहाल जीवन उपलब्ध कराने का संकल्प लिया।

loading...
शेयर करें