महंत नरेंद्र गिरि के निधन पर सीएम योगी ने किया ट्वीट, दुःख जताते हुए की प्रार्थना

प्रयागराज: साधु संतों की सबसे बड़ी संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि का संदिग्ध परिस्थितियों में निधन हो गया है। सूत्रों के अनुसार उनका शव अल्लापुर बाघंबरी गद्दी स्थित आश्रम के कमरे में फांसी के फंदे से लटकता मिला है। मौके पर पुलिस व आलाधिकारी पहुंच कर जांच में जुट गए है। इस दुखद खबर की सूचना मिलते ही सीएम योगी ने दुख जताया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनके निधन पर दुःख जताया है। सीएम योगी ने ट्वीट कर कहा है की “अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि जी का ब्रह्मलीन होना आध्यात्मिक जगत की अपूरणीय क्षति है।

प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत पुण्यात्मा को अपने श्री चरणों में स्थान तथा शोकाकुल अनुयायियों को यह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें।

ॐ शांति! ”

नहीं हुआ खुलासा

बताया जा रहा है कि महंत नरेंद्र गिरी का कमरा अंदर से बंद मिला था जिसके बाद शक होने पर उसे खोला गया तो अंदर उनका शव मिला। आईजी केपी सिंह सहित तमाम आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। यह हत्या है या आत्महत्या, इसके पीछे के कारणों का खुलासा अभी नहीं हो सका है।

आनंद गिरि से हुआ था विवाद

बता दें कि निरंजनी अखाड़े से निष्कासित योग गुरु आनंद गिरि और अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि के विवादों के बीच मठ-मंदिरों की जमीनों को लेकर भी घमासान काफी सुर्खियों में रहा था। स्वामी आनंद गिरि ने राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री को पत्र भेजकर अखाड़े के विवाद की जानकारी दी थी।

Related Articles