सीएम योगी का वार: कहा ‘हताश विपक्ष किसानों को कर रहा है गुमराह’

मुख्योमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘हताश विपक्ष किसानों को कर रहा है गुमराह, सरकार अन्न दाता के साथ है’

बरेली: उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि हताश, निराश विपक्ष किसानों को गुमराह कर उनके हितों पर डाका डालने की साजिश कर रहा है। उन्होंने कहा कि नए कृषि कानून किसानों के हित में हैं और नये कानून से मंडियां बंद नहीं होंगी बल्कि नए इन कानूनों से कृषि बाजार में प्रतिस्पर्धा बढ़ेगी।

किसानों के हित में कृषि कानून

किसान कानून के विरोध में देश में चल रहे आन्दोलन के बीच किसानों से संवाद कार्यक्रम के तहत आयोजित किसान सम्‍मेलन में भाग लेने यहां आये योगी ने विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वो किसानों को जानबूझकर भ्रमित करने की साजिश कर रहे हैं।

सीएम ने कहा कि विपक्ष जब जा‍ती, मत और मजहब के आधार पर काम करने लगे तो सरकार का फर्ज बनता है की जनता के बीच जाकर सभी को सच्‍चाई से अवगत कराया जाए। यही काम करने हम किसान सम्‍मेलन में भाग लेने आज बरेली आए हैं।

किसानों को लाभ

किसान सम्‍मेलन के मंच से मुख्यमंत्री योगी ने किसानों को भरोसा दिया कि वह किसी के बहकाबे में न आएं। केन्‍द्र और प्रदेश सरकार के हितों से किसी भी स्‍थ‍िति में समझौता नहीं होने देगी। उनकी तरक्‍की और खुशहाली के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। नए कृ‍षि कानून से किसानों हर तरह का लाभ होगा।

योगी ने कहा कि केन्‍द्र और प्रदेश सरकार प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के मार्गदर्शन में किसान, गांव, गरीब, नौजवानों के साथ हर वर्ग के हित में काम कर रही है। हम माफियागीरी नहीं चलने देंगे। किसान गुमराह न हों और वह किसी के बहकाबे में नही आवे। सरकार के उनके हित में हर वो काम करके दिखाएगी, जिससे उन्‍हें उनका हक हासिल हो और आमदनी में बढ़ोत्‍तरी के साथ उनका जीवन स्‍तर सुधरे।

चीनी मिलें बंद

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी की सरकारों के समय चीनी मिलें बंद हो रही थीं जबकि हमने किसानों को एक लाख 15 हजार करोड़ का गन्‍ना भुगतान किया है। किसानों के सबसे बड़े मुखिया चौधरी चरण सिंह के अपने क्षेत्र में रमाला चीनी मिल विस्तारीकरण की बाट जोह रही थी जो हमने खुद वहां जाकर यह उस काम को कराया है। प्रदेश सरकार खांडसारी उद्योग के लिए प्राथमिकता से लाइसेंस दे रही हैं। किसानों के हित और हक की बातें उन लोगों को बुरा लग रही हैं, जो ऐसा होते नहीं देखना चाहते। सरकार किसानों के हित में बायोफ्यूल की नई पॉलिसी ला रही है।

मंडियों को नई तकनीक से जोड़ने पर काम

सीएम ने कहा कि सरकार मंडियों को नई तकनीक से जोड़ने का काम कर रही हैं जबकि विपक्ष अफवाह फैला रहा है कि मंडियां बंद हो जाएंगी। नए किसान कानून में मंडियां बंद नहीं होंगी और पहले की तरह एमएसपी जारी है और उसे बढ़ाया जायेगा। निजी कंपनियों के आने से प्रतिस्पर्धा बढ़ेगी। उन्होंनें कहा कि नए कृषि कानून से किसानों को फायदा ही होगा। कुछ लोग परेशांन है क्योंकि मंडी से बाहर जींस बेचने पर मंडी टेक्स नहीं लगेगा।

उन्होंने कहा कि विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं बचा है और ये वही विपक्ष है जो किसान सम्‍मान निधि की बातों को बस चुनावी शिकूफा बताता था। आज आप देख रहे होंगे कि कैसे यूपी के किसानों के खातों में 22 हजार करोड़ की राशि सरकार ने भेजी है। अगली किश्त भी किसानों के खाते में सीधे भेजने की तैयारी है। सूदखोरी पर लगाम लगाई जा रही है।

यह भी पढ़ेIND vs AUS: विराट के अर्धशतक के बावजूद भारतीय पारी लड़खड़ाई

यह भी पढ़ेSTF को मिली बड़ी सफलता, जहरीली शराब के मामले में फरार चल रही इनामी अरेस्ट

Related Articles

Back to top button