भारतीय सांस्कृतिक व प्राचीन भाषाओं को बढ़ावा देने के लिए सीएम योगी का बड़ा कदम

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार भारतीय सांस्कृतिक परंपराओं और प्राचीन भाषाओं को बढ़ावा देने के लिए संस्कृति सप्ताह मनाने जा रही है। ये संस्कृत सप्ताह योगी सरकार 19 अगस्त से 25 अगस्त तक मनाया जा रहा है। आज से शुरू हो रहे संस्कृत सप्ताह के जश्न के हिस्से के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी से प्राचीन भाषा सीखने और इसे बढ़ावा देने का आग्रह किया है।

इस संदर्भ में केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने देश के सभी नागरिकों में भारतीय सांस्कृतिक परंपराओं और भाषाओं के प्रति एक नया उत्साह पैदा करने और संस्कृत लोगो तक आसानी से पहुंचाने के लिए कहा है।

इसको लेकर केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने ट्वीट करके लिखा है- ‘ऋषियों, मुनियों व तपस्वियों के ज्ञान, विज्ञान और दर्शन की अमूल्य धरोहर सहेजे, संस्कृत, भारत की संस्कृति, सभ्यता व कई भाषाओं का आधार है। इसी के तहत ये संस्कृति सप्ताह 19 से 25 अगस्त तक मनाए जा रहा है। संस्कृत सप्ताह पर पीएम श्री नरेंद्र मोदी ने जनता से इस प्राचीन भाषा को सीखने व बढ़ावा देने का आह्वान किया है।’

https://twitter.com/dpradhanbjp/status/1428298526191079424?t=FAwhN_rIbFnyftiMofQ24g&s=19

उन्होंने आगे लिखा, ‘आइए संस्कृत सप्ताह के अवसर पर हम सब हमारी समृद्ध सांस्कृतिक परम्पराओं और भाषाओं के प्रति एक नया उत्साह उत्पन्न करने एवं संस्कृत को सहजता से लोगों तक पहुंचाने का संकल्प लें।’

पीएम मोदी ने संस्कृत सप्ताह पर नागरिकों को बधाई देते हुए कहा कि यह खुशी की बात है कि संस्कृत भाषा आधुनिक तकनीक के माध्यम से अधिक लोगों तक पहुंच रही है और दुनिया भर में भाषा की लोकप्रियता बढ़ रही है। ये संस्कृत सप्ताह लोगों में नई रुचि और उत्साह पैदा करेगा और संस्कृत भाषा के प्रसार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

Related Articles