CM YOGI के यूपी मॉडल की चर्चा चारों ओर, ऑस्ट्रेलियाई सांसद एवं मंत्री जेसन वुड ने की सीएम योगी आदित्यनाथ की तारीफ

Uttar Pradesh के CM Yogi Adityanath कोरोना प्रबंधन के मुरीद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही नहीं हैं बल्कि मुख्यमंत्री के कोरोना मैनेजमेंट की चर्चा विदेशों में भी हो रही है

लखनऊ: Uttar Pradesh के CM Yogi Adityanath कोरोना प्रबंधन के मुरीद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही नहीं हैं बल्कि मुख्यमंत्री के कोरोना मैनेजमेंट की चर्चा विदेशों में भी हो रही है और अब ऑस्ट्रेलियाई सांसद सांसद क्रेग कैली के बाद अब आस्ट्रेलिया सरकार में मंत्री जेसन वुड ने कोविड प्रबंधन को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारिफ की है और मंत्री जेसन वुड कोविड प्रबंधन पर उत्तर प्रदेश सरकार के साथ काम करने को लेकर उत्सुक हैं।

जानें जेसन वुड ने ट्वीट पर क्या लिखा

जेसन वुड ट्वीट कर लिखा कि हम उत्तर प्रदेश के साथ काम करने के लिए उत्सुक हैं। संस्कृति और विकास के संवर्धन के लिए हम लोग उत्तर प्रदेश सरकार के साथ काम करेंगे।  कोविड 19 प्रबंधन के लिए योगी के यूपी मॉडल से प्रेरित होकर उन्होंने आगे लिखा कि सीएम योगी को धन्यवाद। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुझे अपना संदेश दिया। इस कठिन समय में यूपी सरकार के कोविड नियंत्रण प्रयासों की सराहना करें।

 

पहले भी हो चुकी ऑस्ट्रेलिया में CM Yogi की तारीफ

ऑस्‍ट्रेलिया के संसद सदस्‍य क्रेग केली ने यूपी सीएम योगी आदित्‍यनाथ के कोरोना प्रबंधन की तारिफ कुछ दिन पहले भी की थी। उन्‍होंने आइवरमेक्टिन के प्रयोग के साथ प्रदेश में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट डेल्‍टा को नियंत्रित करने के लिए सरकार की नीतियों को सराहा था। सांसद क्रेग केली ने ट्वीट करते हुए लिखा कि 24 करोड़ की आबादी वाले उत्‍तर प्रदेश ने आइवरमेक्टिन टैबलेट का प्रयोग कर दूसरी लहर पर अंकुश लगाया है। वहीं, कनाडा के एक निवेशक पैट्रिक ब्रुकमैन ने भी ‘क्रशिंग द कर्व’ में योगी आदित्यनाथ के प्रभावी नेतृत्व का जिक्र करते हुए यूपी मॉडल ऑफ कोविड प्रबंधन की सराहना की थी।

 

आपको बता दें कि 24 करोड़ की आबादी वाले उत्तर प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहार को काबू करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्रिपल ‘टी’ यानी ट्रैक, टेस्ट एंड ट्रीट फॉर्मूला दिया था और इसी फॉर्मूले की वजह से कोरोना महामारी पर प्रभावी नियंत्रण पाया जा सका और यही वजह है कि पिछले 24 घंटों में प्रदेश के 32 जिलों में कोरोना संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया है जबकि 59 जिलों में संक्रमण का कोई भी नया मामला सामने नहीं आया है और कोरोना संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए प्रदेश सरकार की नीतियों को मुम्बई हाईकोर्ट, सुप्रीमकोर्ट, डब्ल्यूएचओ ने भी सराहा है।

 

यह भी पढ़ें:UP में ‘अब्बाजान’ के बाद अब ‘चाचाजान’, राकेश ने किया ओवैसी पर वार, पूछा- इन पर क्यों नहीं होगा मुक़दमा?

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)..

 

Related Articles