यूपी में बढ़ रही शीत लहर, तेजी से बिकने लगी शराब, डॉक्टरों ने कही ये बात

उत्‍तर प्रदेश में नए साल के बाद से जमकर शीत लहर चल रही है। जितने तेजी से इन दिनों शीत लहर चल रही है, तो लोगो ने इससे बचने का उपाए भी निकाला है।

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश में नए साल के बाद से जमकर शीत लहर (Cold wave) चल रही है। जितने तेजी से इन दिनों शीत लहर (Cold wave) चल रही है, तो लोगो ने इससे बचने का उपाए भी निकाला है। लोगों को लगता है कि सर्दी भगाने का यह सबसे आसान तरीका है कि शराब पीने से ठंड दूर हो जाएगी। इस वजह से इन दिनों यूपी में हर साल सर्दी के महीने में बढ़ते ठंड के साथ शराब (Liquor) की खपत बढ़ जाती है। इस साल शराब बिक्री में 50 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। इसमें सबसे बड़ा सवाल ये उठता हाउ कि क्या शराब पीने से सर्दी भाग जाती है, क्या इससे शरीर पर कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ता?

आबकारी विभाग के अपर मुख्य सचिव ने मीडिया में जानकरी दी है कि पिछले साल के मुकाबले इस बार अधिक ठंड बढ़ने की वजह से शराब की बिक्री 50 फीसदी बढ़ी है। इससे ये अंदाजा लगाया जा सकता है लोग किस तरह से सर्दी भगाने के लिए शराब का सेवन कर रहे है। जिस तरीके से धड़ल्ले से शराब बिक्री हो रही है और लोग इसका सेवन कर रहे है की सर्दी भाग जाएगी लेकिन यह भ्रम है कि शराब पीने से सर्दी भगाती है, उल्टा इसका शरीर पर बुरा असर पड़ता है।

ये भी पढ़ें : दर्जन भर नेताओं ने Congress से जुड़ा हाथ, ‘साइकिल’ पकड़ने को है तैयार

डॉ. एससी तिवारी ने बताया कि शराब पीने से ये होता नुकसान

लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के मानसिक रोग विभाग के हेड रह चुके डॉ. एससी तिवारी ने बताया कि शराब पीने से दिमाग को सुस्त कर देती है। दिमाग का लेवल ऑफ एक्टिविटी घट जाता है। इससे दो चीजें होती हैं, पहली बात उसका व्यवहार सामने आ जाता है जो छुपाया रहता है, दिमाग काम नहीं करता होश नहीं रहता क्या सही है और क्या गलत। दूसरा ब्रेन एक्टिविटी कम होने से परिस्थितियों का एहसास नहीं होता है। ऐसे में क्षणिक राहत के लिए इतना बड़ा नुकसान नहीं उठाया जाना चाहिए।

ये भी पढ़ें : बिल्डर ने तय समय पर नहीं दिया घर तो ब्याज समेत करनी होगी रकम वापसी: Supreme Court

Related Articles

Back to top button