प्रधानमंत्री जन-धन योजना के पुरे हुए 6 साल, 40.35 करोड़ लाभार्थी  हैं , 2 लाख के इंश्योरेंस समेत , मुफ्त में मिलती है ये 11सुविधाये 

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री द्वारा इस योजना की शुरुआत 15 अगस्त 2014 में  जनधन योजना की घोषणा की थी पीएम की घोषणा के बाद इस योजना को आधिकारिक तौर पर 28 अगस्त 2014 को लांच किया गया था . इस उद्देश्य से योजना की हुई थी इसकी शुरूआतवित्तीय समावेशन, गरीबों-पिछडों तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने और जो लोग बैकिंग सिस्टम से नहीं जुड़ पाये थे उन्हें बैकिंग से जोड़ने के उद्देश्य से मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री जनधन योजना की शुरूआत की थी.

जनधन  अकाउंट के साथ मिलते है 11 फायदे

  • जनधन खाता फ्री में खोला जाता है और इसमें कोई मिनिमम बैलेंस नहीं रखना पड़ता है. 6 महीने बाद ओवरड्राफ्ट सुविधा मिलती है.
  • 2 लाख रुपये तक एक्सिडेंटल इंश्योरेंस कवर मिलता है.
  • 30,000 रुपये तक का लाइफ कवर, जो लाभार्थी की मृत्यु पर योगयता शर्ते पूरी होने पर मिलता है.
  • डिपॉजिट पर ब्याज मिलता है.
  • खाते के साथ फ्री मोबाइल बैंकिंग की सुविधा भी दी जाती है.
  • जन धन खाता खोलने वाले को रुपे डेबिट कार्ड दिया जाता है जिससे वह खाते से पैसे
  • निकलवा सकता है या खरीददारी कर सकता है.
  • जनधन खाते के जरिए बीमा, पेंशन प्रोडक्ट्स खरीदना आसान है.
  • जनधन खाता है तो पीएम किसान और श्रमयोगी मानधन जैसी योजनाओं में पेंशन के लिए खाता खुल जाएगा.
  • देश भर में पैसों के ट्रांसफर की सुविधा दी जाती है.
  • सरकारी योजनाओं के फायदों का सीधा पैसा खाते में आता है.

प्रधानमंत्री जन धन योजना के 6 साल हुए पूरे

जनधन खाता धारकों की दुर्घटना बीमा राशि को 1 लाख रुपये से बढ़ाकर 2 लाख रुपये कर दिया गया है. विभिन्न सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों तक डीबीटी के माध्यम से सीधे उनके बैंक खाते में पैसा ट्रांसफर होता है.

19 अगस्त तक के आंकड़ों के मुताबिक इस योजना के तहत 40.35 करो़ड़ बैंक खाते खोले जा चुके हैं. योजना के तहत खोले गये बैंक खातों में से 63.6 फीसदी खाते ग्रामीणों के लिए खोले गये. यहीं नहीं आधे से अधिक 55.2 फीसदी जनधन बैक खाते महिलाओं के लिए खोला गया है.

Related Articles