कंप्यूटर बाबा को नहीं मिलेगी लक्ज़री गाड़ी, हिस्ट्रीशीटर के अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर

कंप्यूटर बाबा को महंगी गाड़ी मुहैया कराने वाले हिस्ट्रीशीटर के अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर

इंदौर: जेल में बंद कंप्यूटर बाबा को महंगी गाड़ी मुहैया कराने वाले हिस्ट्रीशीटर पर धावा बोलते हुए प्रशासन ने इंदौर में उसके अवैध निर्माण को ढहा दिया है। एडीएम ने बोला, हमें पता चला है कि कंप्यूटर बाबा इस महंगी गाड़ी का इस्तेमाल करते थे।

एसयूवी जब्त

एडीएम अजयदेव शर्मा ने संवाददाताओं को बताया, जब हमने आठ नवंबर को जम्बूर्डी हप्सी गांव में नामदेव दास त्यागी (कंप्यूटर बाबा) का अवैध आश्रम ढहाया था, तब हमने वहां से एक एसयूवी जब्त की थी।

महंगी गाड़ी का इस्तेमाल

एडीएम ने बोला, हमें पता चला है कि कंप्यूटर बाबा इस महंगी गाड़ी का इस्तेमाल करते थे। यह गाड़ी परिवहन विभाग के रिकॉर्ड में उस रमेश तोमर के नाम पर दर्ज है जिसके खिलाफ आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी, जबरन वसूली, मारपीट और अन्य आरोपों में कुल 19 आपराधिक मामले दर्ज हैं।

मूसाखेड़ी में गिरे मकान

एडीएम अजयदेव ने बोला कि तोमर के खिलाफ जांच में पता चला कि उसने इंदौर नगर निगम (आईएमसी) की अनुमति के बगैर मूसाखेड़ी क्षेत्र में कुछ मकान बनवाए हैं। पुलिस बल की मौजूदगी में इन अवैध निर्माणों को ढहा दिया गया।

दूरसंचार कंपनियां किराए पर

एडीएम ने बोला रमेश तोमर ने इसी क्षेत्र में स्थानीय प्रशासन की मंजूरी के बगैर एक भूखंड को तीन मोबाइल टॉवर लगाने के लिए दूरसंचार कंपनियों को किराए पर दे दिया था। अवैध तौर पर खड़े किए गए इन टॉवरों को हटवाया जा रहा है।

यह भी पढ़े:दिल्ली में कई दिनों बाद वायु गुणवत्ता में सुधार, न्यूनतम तापमान 11.8 डिग्री सेल्सियस किया गया दर्ज 

यह भी पढ़े:विश्व में कोरोना संक्रमितों की संख्या साढ़े पांच करोड़ के पार, 13 लाख से अधिक लोगों की मौत 

Related Articles

Back to top button