पिछड़े वर्ग के छात्र/छात्राओं के लिए कम्प्यूटर प्रशिक्षण कार्यक्रम 1 सितम्बर से शुरू

लखनऊः प्रदेश के पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग द्वारा पिछड़े वर्ग के इण्टरमीडिएट पास बेरोजगार युवक/युवतियों हेतु भारत सरकार की नीलिट से मान्यता प्राप्त संस्थाओं के माध्यम से ओ-लेवल एवं सी0सी0सी0 कम्प्यूटर प्रशिक्षण योजना संचालित की जा रही है।

इस योजना के तहत पिछड़े वर्ग के गरीब छात्र/छात्राओं को कौशल विकास प्रदान करने के लिए कम्प्यूटर प्रशिक्षण दिया जाता है। योजनान्तर्गत चयनित प्रशिक्षणार्थियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम आगामी 01 सितम्बर, 2021 से प्रारम्भ कराया जाना प्रस्तावित है।

पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार कम्प्यूटर प्रशिक्षण योजना के तहत वर्ष 2021-22 में 1500 लाख रूपये के बजट का प्राविधान है। वर्ष 2020-21 में इस योजना में उपलब्ध बजट 1461.02 लाख रूपये से 8496 लाभार्थियों को ओ-लेवल तथा 8379 लाभार्थियों को सी0सी0सी0 कम्प्यूटर प्रशिक्षण प्रदान कराया गया। इस प्रकार कुल 16875 प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण प्रदान कराया गया है।

उल्लेखनीय है कि इस योजना के तहत ओ-लेवल कम्प्यूटर प्रशिक्षण हेतु भुगतान की जाने वाली धनराशि अधिकतम 15,000 रूपये प्रति प्रशिक्षार्थी तथा सी0सी0सी0 कम्प्यूटर प्रशिक्षण हेतु 3500 रूपये अधिकतम धनराशि सीधे संस्था को भुगतान किये जाने की व्यवस्था है।

Related Articles