कांग्रेस ने केरल में संवैधानिक संकट का लगाया आरोप, राष्ट्रपति से करेंगे मुलाकात

केरल बुनियादी ढांचा निवेश निधि बोर्ड (केआईआईएफबी) के बारे में नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक की रिपोर्ट लीक होने के बाद विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने राज्य में संवैधानिक संकट का आरोप लगाते हुए

तिरुवनंतपुरम: केरल बुनियादी ढांचा निवेश निधि बोर्ड (केआईआईएफबी) के बारे में नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक की रिपोर्ट लीक होने के बाद विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने राज्य में संवैधानिक संकट का आरोप लगाते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करने का फैसला किया है।

पार्टी सूत्रों ने रविवार को बताया कि कांग्रेस ने इस मुद्दे पर राज्य के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान से भी मुलाकात करने का फैसला लिया है।

उधर राज्य के वित्त मंत्री डॉ. थॉमस इसाक ने कैग की रिपोर्ट को खारिज करते हुए कहा है कि कैग केआईआईएफबी पर अपनी रिपोर्ट में असंवैधिक तरीके से ऋण का मुद्दा उठा रहा है।

उनका कहना है कि कैग केआईआईएफ तथा राज्य की बड़ी वित्तीय परियोजनाओं को बर्बाद करने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने कहा कि कैग ने नौ बार केआईआईएफबी का लेखा परीक्षित किया है, लेकिन कभी इस तरह के आरोप नहीं लगाये गये थे।

उन्होंने कहा,“कैग 1999 से केआईआईएफबी का ऑडिट कर रहा है। सिर्फ इस वर्ष जनवरी के बाद से कैग ने 76 जांच का मुद्दा उठाया है। ऐसे सवालों से संबंधित सभी दस्तावेज कैग को प्रस्तुत कर दिये गये थे।

कई केंद्र सरकार के संस्थान भी ऋण लेने के लिए उपयोग करते है, लेकिन, कैग का कहना है कि केआईआईएफबी ने संविधान के अनुच्छेद 293 (1) का उल्लंघन किया है।”

ये भी पढ़े : BCCI अध्यक्ष की उम्मीद, ऋद्धिमान साहा टेस्ट सीरीज से पहले चोट से होंगे ठीक

उन्होंने आरोप लगाया कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) लाइफ मिशन, के-फोन तथा ई मोबिलिटी समेत विभिन्न प्रतिष्ठित परियोजनाओं को अपने अधीन लाने की योजना बना रहा है।

ये भी पढ़े : आंध्र प्रदेश में कोरोना वायरस से सक्रिय मामलों में गिरावट जारी

विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला के आरोपों का जवाब देते हुए इसाक पर उल्टा आरोप लगाया कि विधानसभा के पटल पर रखे जाने के पहले कैग की रिपोर्ट सार्वजनिक कर उन्होंने (इसाक ने) नियमों का उल्लंघन कर जानबूझकर कैग के प्रस्तावित रिपोर्ट को सार्वजनिक किया है। उन्होंने कहा कि वह इसाक के खिलाफ विशेषाधिकार के उल्लंघन को नोटिस भी लाएंगे।

 

 

 

Related Articles

Back to top button