कांग्रेस और बीजेपी का चुनावी रैप बैटल

लोकसभा चुनाव में प्रचार के लिए राजनीतिक पार्टियो ने कमर कस ली है. राजनीतिक पार्टिया काम करे ना कर ,प्रचार जी जान से करती है. रैलियों और रोड शो के अलावा इस बार एक जंग सोशल मीडिया पर भी लड़ी जा रही है. वोटरों को लुभाने के लिए भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस ने कई गानों को लॉन्च किया है. एक तरफ बीजेपी अपने कार्यकाल का बखान कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर वोट मांग रही है, तो वहीं कांग्रेस ने न्याय योजना को ही थीम बना दिया है.

‘अब होगा न्याय’ कांग्रेस का? 

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सत्ता में आने पर न्याय योजना लागू करने का वादा किया है, जिसके तहत करीब 5 करोड़ गरीब परिवारों को 72000 रुपये सालाना दिए जाएंगे. कांग्रेस ने इसी को भुनाने के लिए गाना लॉन्च किया है, जिसका टाइटल ‘अब होगा न्याय’ दिया गया है. इस गाने में न्याय के बारे में बताने के साथ-साथ बीजेपी सरकार पर निशाना साधा गया है.

“तुम झूठी चालें चल के

शहरों के नाम बदल के

नोटों को कचरा कर के

और हर निर्धन को छल के

नफ़रत का धुआं फ़ैला के

भाई से भाई लड़ा के

कहते हो हम को चुन लो

अब तुम भी हमारी सुन लो…”

 

बीजेपी ने लगाई विज्ञापनों की भीड़ 

भारतीय जनता पार्टी की तरफ से अभी तक कई विज्ञापन जारी किए गए हैं, जो सोशल मीडिया, टीवी और अखबारों में छाए हुए हैं. भाजपा के विज्ञापनों के केंद्र में सिर्फ और सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं. जिनमें मोदी है तो मुमकिन है, चलो फिर एक बार मोदी सरकार बनाते हैं जैसे गाने शामिल किए गए हैं.

इसके अलावा भी भारतीय जनता पार्टी छोटे-छोटे विज्ञापन बना रही है, जिसमें मोदी सरकार की योजनाओं जैसे उज्ज्वला, स्वच्छ भारत, भ्रष्टाचार, राष्ट्रवाद जैसे मुद्दों को भुनाया जा रहा है. बीजेपी ने युवा वोटरों को साधने के लिए रैप का भी सहारा लिया है, जैसे पहली बार वोट डालने वाले लोगों के लिए रैप सॉन्ग निकाला गया है.

गौरतलब है कि इस बार के चुनाव में सोशल मीडिया एक अहम भूमिका निभा रहा है. रोजाना पार्टियों की तरफ से ट्विटर पर नए-नए हैशटैग भी ट्रेंड कराए जा रहे हैं.

Related Articles