कांग्रेस की घोषणाएं मीडिया तक ही सिमटी, नहीं हुई कार्यक्रमों की शुरुआत

लखनऊ:कांग्रेस पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी लखनऊ में प्रवास नहीं कर रही हैं। वहीँ कांग्रेस के कार्यक्रम मीडिया में घोषणा तक ही सिमटते जा रहे हैं। प्रमोशन में आरक्षण के मुद्दे पर ब्लॉक स्तरीय चौपालें अभी हुई नहीं हैं कि दलित यात्रा की तैयारी की जा रही है। यह यात्रा 25 फरवरी को मेरठ से प्रारंभ होगी। फिर 11 जिलों से होते हुए गोरखपुर में संपन्न होगी।

बताया जाता है कि 16 फरवरी को लखनऊ के हजरतगंज चौराहे पर आंबेडकर की प्रतिमा के सामने शपथ लेकर ये चौपाल लगाई जाएंगी। यह चौपाल 13 फरवरी को प्रदेश के सभी 824 ब्लॉकों में लगाने की घोषणा यूपी प्रभारी प्रदीप नरवाल ने की थी।

इसी के साथ पार्टी के कई पदाधिकारी भी मानते है कि कार्यक्रम नहीं हो सके हैं। इससे पहले पिछले साल दिसंबर में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत कई नेताओं ने कहा था कि प्रियंका गांधी 8-10 दिन यूपी में ही प्रवास करेंगी ताकि कार्यकर्ताओं के दुख-दर्द को साझा करने के साथ संगठन को गति दे सकें।

इसके लिए गोखले मार्ग पर उनके ही एक रिश्तेदार का घर भी फाइनल कर दिया गया। दिसंबर में कांग्रेस के स्थापना दिवस समारोह में लखनऊ आने पर प्रियंका इस आवास में रुकी थीं। जनवरी में वह लखनऊ नहीं आईं और अब फरवरी में भी यहां आने का कोई कार्यक्रम नहीं बना है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी स्वीकार करते हैं कि बिना ठोस कार्य योजना बनाए यूपी में भाजपा का विकल्प बनना मुमकिन नहीं है। वर्तमान में बड़े नेता सिर्फ चर्चित मुद्दों को ही हाथ में ले रहे हैं। बता दें कि वर्तमान में यूपी में कांग्रेस के पास लोकसभा में उसके बाद सिर्फ एक सीट है, जहां से खुद कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी सांसद हैं।

Related Articles