कांग्रेस ने हिला दी बीजेपी सरकार की कुर्सी, लेनी पड़ी पुलिस की मदद

0

रांची| झारखंड में नकली शराब से हुई मौतों पर कांग्रेस ने सत्तारूढ़ मोदी सरकार के खिलाफ एक मुहिम छेड़ दी है। कांग्रेस की इस मुहिम ने सूबे की सत्तारूढ़ मोदी सरकार के होश फाक्ते कर दिए। दरअसल, पिछले दिनों हुई इन मौतों के विरोध में कांग्रेस के शनिवार को बंद के आह्वान को बहुत हद तक जनता का साथ मिला है। पुलिस ने रोकथाम संबंधी उपायों के मद्देनजर 70 से ज्यादा कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया।

राज्य की राजधानी में बंद के दौरान ज्यादातर स्कूल और दुकानें बंद रहीं। सामान्य दिनों की तुलना में सड़कों पर भी काफी कम वाहन दिखाई दिए। झारखंड कांग्रेस के महासचिव किशोर सहदेव ने आईएएनएस से कहा कि लोगों ने कांग्रेस के बंद का सर्मथन किया है। राज्य के लोग नकली शराब के सेवन से हो रही मौतों को लेकर चिंतित हैं।

यह भी पढ़ें: राम रहीम जेल में चिल्ला रहा हनी-हनी…और हनी उड़ा ले गई सारा मनी

रांची में पिछले एक सप्ताह के अंदर नकली शराब के सेवन से झारखंड सशस्त्र पुलिस (जेएपी) के 2 कर्मियों समेत कम से कम 22 लोगों की मौत हो चुकी है।

बताया जाता है कि लोगों ने एक निजी शख्स से ये शराब खरीदी थी। जेएपी के कुछ कर्मी इस शराब की बिक्री में शामिल हैं। झारखंड पुलिस ने 15 जेएपी कर्मियों को बर्खास्त कर दिया है, जो लोगों को नकली शराब बेचने में लिप्त थे। इस मामले में एक जेएपी सिपाही को गिरफ्तार भी किया गया है।

प्रदेश में सरकारी दुकानों पर भारी भीड़ के कारण लोग अक्सर निजी व्यक्तियों से शराब खरीद लेते हैं। हाल ही में हुई मौतों के बाद पूरे राज्य में शराब पर प्रतिबंध लागू करने की मांग बढ़ गई है।

 

 

loading...
शेयर करें