गुजरात में वोटिंग के दौरान EVM को लेकर हुआ चौंकाने वाला खुलासा, आप भी हैरान रह जाएंगे

0

गांधीनगर। गुजरात में पहले दौर की वोटिंग में सौराष्ट्र की 48, कच्छ की 6 और दक्षिण गुजरात की 35 सीटों के लिए वोटिंग खत्म होने में अब कुछ ही घंटे बाकी हैं। ये चुनाव 22 साल से सत्ता में बैठी बीजेपी और जमीन तलाश रही कांग्रेस के बीच हैं। वहीं, इस बार फिर से ईवीएम में गड़बड़ी का मामला सामने आया है। पोरबंदर विधानसभा क्षेत्र से चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है। दरअसल, पोरबंदर के ठक्कर प्लॉट बूथ पर ईवीएम में कुछ गड़बड़ी की शिकायत की गई। शिकायत की गई कि ईवीएम ब्लूटूथ से कनेक्ट है।

यह भी पढ़ें : वोटिंग से पहले गुजरात में मोदी को लगा बड़ा झटका, पोस्टर लगे – बीजेपी को वोट न देना

कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की अपील

कांग्रेस पार्टी ने निर्वाचन आयोग से (ईवीएम) में हुई गड़बड़ी के मामले में कदम उठाने का आग्रह किया है। राज्य में पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने इस संबंध में तुरंत कदम उठाने का अनुरोध किया है। पटेल ने ट्वीट किया, कई मतदान केंद्रों पर ईवीएम में गड़बड़ी होने की खबरें आई हैं। निर्वाचन आयोग से तुरंत जरूरी कदम उठाने का आग्रह करता हूं। चुनाव आयोग को सौराष्ट्र और सूरत के कई मतदान केंद्रों के अलावा वलसाड जिले के कोसाम्बा क्षेत्र में ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी होने की कई शिकायतें मिली हैं।

यह भी पढ़ें : गुजरात चुनाव के दिन मोदी को बड़ा झटका, BJP के पूर्व CM ने कांग्रेस को बताया मजबूत

ईवीएम मशीनों के साथ छेड़छाड़ होने की बात कही गई है

निर्वाचन आयोग को मिली शिकायत में राजकोट पूर्व निर्वाचन क्षेत्र में भी ईवीएम मशीनों के साथ छेड़छाड़ होने की बात कही गई है। पटेल ने भरूच के अंकलेश्वर में वोट डालने के बाद कहा कि उन्होंने बदलाव लाने के लिए वोट डाला है। उन्होंने साथ ही गुजरात के लोगों से भी ऐसा करने का आग्रह किया। एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, मैंने आज अपना वोट डाला है। मैंने बदलाव के लिए वोट दिया है। मैं सभी साथी गुजरातियों से बड़ी संख्या में वोट डालने और बदलाव लाने की अपील करता हूं, जिसके लिए पूरा देश इंतजार कर रहा है।

यह भी पढ़ें : चुनाव आयोग ने गुजरात में किया सबसे बड़ा फैसला – बीजेपी को लगा झटका, कांग्रेस को मिली राहत

ईवीएम ब्लूटूथ से कनेक्ट है

पोरबंदर के ठक्कर प्लॉट बूथ पर ईवीएम में कुछ गड़बड़ी की शिकायत की गई। शिकायत की गई कि ईवीएम ब्लूटूथ से कनेक्ट है। जैसे ही बूथ पर ये समस्या देखने को मिली, वहां चुनाव आयोग की टीम को बुलाया गया। जिसके बाद उसकी जांच की गई। हालांकि, अभी तक जांच रिपोर्ट सामने नहीं आ पाई है।

loading...
शेयर करें