कर्नाटक राज्यपाल के फैसले के विरोध में कांग्रेस ने दिया धरना

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में कर्नाटक के राज्यपाल के फैसले पर कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने कड़ा विरोध प्रदर्शन किया। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर के नेतृत्व में जीपीओ स्थित गांधी प्रतिमा के सामने कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने धरना दिया। पूरे देश में कांग्रेस पार्टी के वरिष्ट नेता अपना विरोध दिखाने के लिए ये धरना दे रहे हैं। बता दे भाजपा नेता बीएस येदियुरप्पा के कर्नाटक में मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद कांग्रेस पार्टी के वरिष्ट नेता देशभर में इसका विरोध कर रहे हैं।

धरना प्रदर्शन कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेताओ ने कर्नाटक में येदियुरप्पा सरकार की वैधानिकता पर सवाल उठाया और भारतीय जनता पार्टी पर लोकतंत्र की हत्या का आरोप भी लगाया। गौरतलब हैं ये विरोध प्रदर्शन कांग्रेस के कार्यकर्ता इसलिए कर रहे हैं क्योंकि उनका मानना हैं कि कर्नाटक में संविधान की धज्जियां उड़ाते हुए अलोकतांत्रिक तरीके से बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के दबाव में राज्यपाल द्वारा भाजपा सरकार को शपथ ग्रहण कराया गया हैं।

धरना प्रदर्शन 

जीपीओ स्थित गांधी प्रतिमा के सामने धरने में शामिल कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओ में प्रमोद तिवारी, संजय सिंह, नसीमुद्दीन सिद्दकी थे। वही मौजूद कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर ने भी कर्नाटक के राज्यपाल के निर्णय पर सवाल उठाते हुए कहा कि, वह केंद्र के इशारे पर काम कर रहे हैं।

जैसा कि मालूम हो कि कर्नाटक में बीएस येदियुरप्पा ने गुरुवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। कांग्रेस ने इसका जमकर विरोध किया हैं और विरोध में कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया हैं। इस मामले की सुनाई सुप्रीमकोर्ट में चल रही है। तीन दिन से जारी सियासी उठा-पटक के बीच कोर्ट ने येदियुरप्पा को कल बहुमत साबित करने का आदेश दिया है।

Related Articles