कांग्रेस नेता ने पीएम पर की आपत्तिजनक टिप्पणी,मागी माफी

0

संसद में पहली चर्चा में ही आरोपों के साथ ही प्रत्यारोपो का माहोल उत्पन्न हो गया| राष्ट्रपति के अविभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा शुरू ही हो पायी थी कि विपक्षीयों ने इसको आरोपों प्रत्यारोपो के साथ बहस शुरू कर दी| सरकार ने सबका साथ सबका विकास के साथ सभी को एक सूत्र में बांधने की कोशिस की, लेकिन विपक्ष में कोई नरमी नहीं दिखी इसके साथ ही एक समय ऐसा आया जब लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन ने पीएम नरेन्द्र मोदी के लिए ‘नाली’ जैसा शब्द प्रयोग कर दिया, जिससे सत्ता पक्ष में भारी हंगामा हुआ, हालांकि जब रंजन को अपनी भूल का अहसास हुआ तब उन्होंने माफी मांगी| वहीँ दूसरी ओर कांग्रेस के नेता गुलाम नवी आजाद ने कहा की हमें न्यू इंडिया नही चाहिए, हमें हमारा पुराना इंडिया ही लौटा दो जहाँ पर सब मिल कर रह सकें| 

New Delhi: A view of the Lok Sabha during the ongoing winter session of Parliament, in New Delhi on Friday. PTI Photo / TV GRAB (PTI12_22_2017_000042B)

भाजपा के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी अपनी वाणीं को तीखा करते हुए कहा ‘रस्सी जल गयी लेकिन ऐंठन नहीं गयी’, इसके साथ ही नड्डा जी ने कहा की विपक्ष को यह समझना चाहिए की जनता ने पिछले कार्यकाल में उनके भारी विरोध के बावजूद सरकार को पूरी ताकत के साथ सत्ता में भेजा है| पहली बार जीत हासिल करने के बाद संसद पहुचे ओड़िसा के भाजपा सांसद केंद्रीय मंत्री प्रताप चन्द्र सारंगी ने धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा शुरू की, उन्होंने भारत में रहने वाले सफेदपोश में छिपे देशद्रोहियों पर करारा तंज कसा और कहा की वन्दे मातरम् का विरोध करने वाले और भारत तेरे टुकड़े टुकड़े का नारा देने वालों को देश में रहने का कोई अधिकार नहीं है|सारंगी जी ने अपनी वाक्पटुता से हिंदी, अंग्रेजी के साथ गीता, उपनिषदों का भी प्रयोग करते हुए विपक्ष को सच्चाई का आइना भी दिखाने का प्रयास किया| इससे सारंगी की विभिन्न भाषाओ पर उनकी अच्छी पकड़ भी दिखाई दे रही है|

loading...
शेयर करें