दूल्हा बन जा रहे थे कांग्रेस नेता, पुलिस ने रोका, बोले- बारात कहा जा रही हमे पता है

प्रयागराज: यूपी के सभी विपक्षी दल किसानों की मौत के बाद लखीमपुर खीरी जाने पहले रोक लिए गए तो वहीं प्रयागराज में कांग्रेस कार्यकर्ता हसीब अहमद ने अजीब तरकीब निकाली। हसीब अहमद खीरी जाने के लिए दूल्हा बन गया, जबकि कार्यकर्ता बाराती बनकर सिविल लाइंस चौराहे से जैसे ही हाटस्टफ चौराहे की तरफ बढ़े पुलिस को शक हुआ तो रोक लिया।

पुलिस ने दूल्हा बने शहर कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता हसीब अहमद से जब पूछताछ की तो हसीब ने कहा कि हमारी शादी है और हम बारात जा रहे हैं। इतने में पुलिस की नजर गाड़ी में रखे हल पर पड़ी और पुलिस ने दूल्हे और बारातियों को वही रोक लिया।

दारोगा ने कहा कि लखीमपुर जाने की किसी को इजाजत नहीं है। लिहाजा आप अपने घरों को लौट जाएं नहीं तो गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाएगा। हसीब अहमद ने जिद की तो दारोगा ने कहा कि मुझे मालूम है कि तुम्हारी बारात कहां जा रही है। ज्यादा होशियारी दिखाओगे तो यहीं चौराहे पर ही द्वारचार करा दिया जाएगा तुम्हारा।

हसीब के साथ कांग्रेस जिलाध्यक्ष अरुण तिवारी भी थी। उन्होंने हसीब को समझाया और वापस चलने को कहा। पुलिस ने आठ बारातियों को भी वापस जाने को कहा। मामले की गंभीरता और पुलिस के रुख को देखते हुए कांग्रेस कार्यकर्ता वहां से चले जाने में ही अपनी भलाई समझे।

Related Articles