कांग्रेस की बैठक खत्म,लेकिन राहुल गांधी पार्टी अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने पर अड़े

कांग्रेस के लोकसभा सांसदों की बुधवार को यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में बैठक हुई है। इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी मौजूद थे। ऐसी रिपोर्ट हैं कि राहुल ने कहा है कि वह पार्टी अध्यक्ष पद पर अब नहीं रहना चाहते हैं। वहीं कांग्रेस के 51 सांसदों ने राहुल से इस्तीफा वापस लेने की मांग की थी।

कांग्रेस सांसद शशि थरूर और मनीष तिवारी ने राहुल को समझाते हुए कहा कि हार की जिम्मेदारी सिर्फ आपकी (राहुल) नहीं है बल्कि सामूहिक है। लेकिन राहुल हार की नैतिक जिम्मेदारी मानते हुए अध्यक्ष नहीं रहना चाहते हैं। बता दें हाल ही में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी महज 52 सीट ही हासिल कर पाई है।

चुनावों में मिली हार के बाद से ही राहुल इस्तीफा देने पर अड़े हुए हैं। वह इससे पहले भी कांग्रेस की बैठक में इस्तीफे की बात कह चुके हैं। राहुल ने कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में पद छोड़ने की बात की थी। जिसे कार्यसमिति ने खारिज कर दिया था। बाद में कांग्रेस के नेताओं ने ही राहुल से कहा था कि उनका कोई विकल्प नहीं है।

पार्टी के नेताओं ने उनसे कहा था कि मुश्किल समय में पार्टी को उनके मार्गदर्शन की जरूरत है। इसलिए वह पार्टी अध्यक्ष का पद ना छोड़ें। राहुल ने इस बैठक में कहा था कि उनकी जगह किसी और को पार्टी का अध्यक्ष बनाया जाए। इस मामले में पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा था कि राहुल गांधी को अधिकार दिया गया है कि वह अपने मुताबिक पार्टी में संगठनात्मक बदलाव कर सकते हैं।

Related Articles