कांग्रेस ने झारखंड प्रदेश सरकार से गाइडलाइन के साथ छठ मनाने की मांगी अनुमति

झारखंड कांग्रेस ने प्रदेश सरकार से आंशिक प्रतिबंध के साथ छठ व्रतियों को नदी, तालाब एवं अन्य घाटों पर लोक आस्था का महान पर्व छठ मनाने की आनुमति मांगी है।

रांची: झारखंड कांग्रेस ने प्रदेश सरकार से आंशिक प्रतिबंध के साथ छठ व्रतियों को नदी, तालाब एवं अन्य घाटों पर लोक आस्था का महान पर्व छठ मनाने की आनुमति मांगी है। झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोरनाथ शाहदेव और राजेश गुप्ता छोटू ने छठ महापर्व को लेकर राज्य सरकार से आग्रह किया है कि आंशिक प्रतिबंध के साथ छठ व्रतियों को नदी, तालाब एवं अन्य घाटों पर लोक आस्था का महान पर्व छठ मनाने की आनुमति दी जाए।

उन्होंने कहा कि छठ पर्व की मान्यताओं के अनुसार कोरोना वैश्विक महामारी का सफाया हो जाएगा। कांग्रेस प्रवक्ताओं ने आज राज्य सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का भाजपा के कुछ नेताओं द्वारा विरोध किये जाने को राजनीति से प्रेरित बताते हुए राज्य सरकार से मांग की है कि अन्य पर्व-त्योहार की भांति सीमित संख्या में छठव्रतियों को घाट जाकर पूजा करन की अनुमति दी जाए।

ये भी पढ़े : इस्लामाबाद में विरोध प्रदर्शन के कारण भारी संख्या में सुरक्षाकर्मी तैनात

पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता दूबे ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण पर अंकुश को लेकर केंद्र सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का झारखंड में सख्ती से पालन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अभी कोरोना संक्रमण के मामले में कमी जरूर आयी है लेकिन अभी संक्रमण से मुक्ति नहीं मिली है इसलिए लोगों को सावधानी बरतनी चाहिए।

ये भी पढ़े : इस्लामाबाद में विरोध प्रदर्शन के कारण भारी संख्या में सुरक्षाकर्मी तैनात

दूबे ने कहा कि छठ महापर्व आस्था से जुड़ है इसलिए राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों पर पुनर्विचार की आवश्यकता है। उन्होंने कहा राज्य की जनता गठबंधन सरकार के निर्णयों के साथ है। सरकार किसी की दुश्मन नहीं है। राज्य सरकार को हर एक व्यक्ति की चिन्ता है। भाजपा को नौटंकी करने की जरूरत नहीं है।

Related Articles

Back to top button