कांग्रेस प्रवक्ता विकास चौधरी हत्याकांड का हुआ खुलाशा,कौशल गैंग के है हत्यारे

दिल्ली: कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी की हत्या के मामले का पुलिस ने खुलाशा किया है। जिसमें पुलिस ने एक महिला समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। माना जा रहा है कि इनसे पूछताछ के बाद इस हत्याकांड का शनिवार शाम तक खुलासा हो सकता है।

पुलिस के अनुसार दोनों महिला पुरुष का संबंध कौशल गैंग से है। इन्हें गुरुग्राम से गिरफ्तार किया गया है। आज इनकी अदालत में पेशी भी होगी।

ये है पूरा मामला
हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास चौधरी की गुरुवार को दिनदहाड़े गोलियों से छलनी कर हत्या कर दी गई। वह सेक्टर-9 हुडा मार्केट में सुबह 9 बजे जिम करने पहुंचे थे। वह अपनी कार से उतर भी नहीं पाए थे कि पीछे से आई कार में सवार बदमाशों ने उन पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं।
गंभीर रूप से घायल कांग्रेसी नेता को तत्काल निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पूरी वारदात जिम के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। इसमें सफेद रंग की कार में आए दो युवक विकास चौधरी पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाते दिखे।
कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी सुबह करीब 9 बजे अपनी फॉर्च्यूनर कार में घर से कुछ ही दूरी पर स्थित जिम पहुंचे थे। उनके पीछे ही एक सफेद रंग की कार आकर रुकी, जिसमें से दो युवक उतरे। उनमें से एक ने विकास को ड्राइविंग साइड से और दूसरे ने कार के सामने से आकर ताबड़तोड़ गोलियां बरसानी शुरू कर दी।
जिम के गेट पर बैठा सिक्योरिटी गार्ड गोलियां चलते देख वहां से भाग गया। मात्र 30 सेकेंड में हमलावरों ने विकास पर 15 से 20 राउंड फायर किए और कार में बैठकर फरार हो गए। गोलियां चलने की आवाज सुनकर जिम में मौजूद लोग दौड़कर बाहर पहुंचे तो देखा कि विकास चौधरी कार में खून से लथपथ हालत में पड़े हैं।
जिम प्रबंधन ने इसकी सूचना विकास के परिजनों को दी तो कुछ ही देर में विकास चौधरी के भाई गौरव चौधरी व पत्नी चित्रा भी वहां आ गए। जिम करने आए सेक्टर-9 निवासी नवीन सिंह व गौरव ने विकास चौधरी को अपनी कार में डाला और उन्हें सर्वोदय अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

Related Articles