कांग्रेस नवंबर में गुजरात में करेगी ‘चिंतन शिविर’, शामिल हो सकते हैं राहुल गांधी

नई दिल्ली: प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और विधानसभा में विपक्ष के नेता के चयन से पहले गुजरात के कांग्रेस नेताओं ने शुक्रवार को दिल्ली में पार्टी के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी से मुलाकात की। गुजरात कांग्रेस प्रमुख का पद इस साल मार्च से खाली पड़ा है जब पंचायत चुनाव में पार्टी की हार के बाद अमित चावड़ा ने पद से इस्तीफा दे दिया था। नेता प्रतिपक्ष परेश धनानी ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

2019 में कांग्रेस में शामिल हुए थे हार्दिक पटेल

इससे पहले सुबह गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल और निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी ने नए अध्यक्ष के चयन को लेकर राहुल गांधी से मुलाकात की। पार्टी अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राज्य इकाई में संगठनात्मक सुधार चाहती है।

शीर्ष पद के लिए हार्दिक पटेल, भरतसिंह सोलंकी, अर्जुन मोढवाडिया और शक्तिसिंह गोहिल के नाम चर्चा में हैं। पटेल एक मजबूत दावेदार हैं, वहीं कई विधायकों और वरिष्ठ नेताओं को लगता है कि पार्टी को एक अनुभवी व्यक्ति को नियुक्त करना चाहिए।

पटेल, जो शक्तिशाली पटेल समुदाय से ताल्लुक रखते हैं, को व्यापक रूप से राज्य में भाजपा की पटेल राजनीति के लिए कांग्रेस के काउंटर के रूप में देखा जाता है। वह पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (PAAS) का चेहरा थे। वह 2019 में कांग्रेस में शामिल हुए थे।

इस बीच, राहुल गांधी चुनाव से पहले पार्टी कार्यकर्ताओं को उत्साहित करने के लिए नवंबर में गुजरात का दौरा कर सकते हैं। पार्टी ‘चिंतन शिविर’ आयोजित करने की भी योजना बना रही है। राहुल गांधी के उस कार्यक्रम में भाग लेने की संभावना है जिसमें नेता कई मुद्दों और चुनावी रणनीतियों पर चर्चा करेंगे।

यह भी पढ़ें: ड्वेन जॉनसन, रयान रेनॉल्ड्स, गैल गैडोट का ‘Red Notice’ trailer आउट

Related Articles