NYAY योजना को प्रचार का अहम मुद्दा बनाकर बीजेपी को टक्कर देगी कांग्रेस

लोकसभा चुनाव 2019 में मुख्य लड़ाई सत्तापक्ष बीजेपी और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के बीच हैं. दोनों ही आए दिन एक-दुसरे पर हमले कर रहे हैं. आरोप-प्रत्यारोप का दौर हर रोज जारी हैं. पीएम मोदी अपने कार्यकाल में किए गए विकास काम और आतंकवाद के खिलाफ की गई कारवाई को लेकर प्रचार कर रहे हैं. वो अपनी हर सभा में पिछले 5 साल के काम और कांग्रेस द्वारा किए गए कामों का तुलना कर रहे हैं सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों की टीम जुट गई हैं. पहले चरण के लिए 11 अप्रैल को वोटर अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. इन चुनावों .

दूसरी ओर कांग्रेस ने NYAY स्कीम की घोषणा कर बड़ा ट्रम्प कार्ड खेला है. बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष ने देश के सबसे गरीब पांच करोड़ परिवारों के लिए न्यूनतम आय गारंटी योजना (न्याय) की घोषणा की थी. इस स्कीम के चलते देश के करीब 5 करोड़ गरीब परिवारों को सालाना 72 हजार रुपये दिए जाने का वादा है. कांग्रेस की इस स्कीम को लेकर लोग सकारात्मक प्रतिक्रिया दे रहे हैं.

लोगों से मिल रहे रिस्पोंस के बाद कांग्रेस पार्टी इसी स्कीम को चुनावों में भुनाने की योजना बना रही हैं. पार्टी के रणनीतिकार ग्रामीण इलाकों में इस स्कीम के आक्रामक प्रचार की कार्यनीति बना रहे हैं. राहुल गांधी का प्रचार भी लगातार इस स्कीम को अपने प्रचार में इस्तेमाल करते हैं.

बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष ने इस स्कीम का ऐलान करते समय कहा था कि न्यूनतम आय रेखा 12,000 रुपये मासिक है और इस योजना का लाभ इससे कम आय वालों को मिलेगा. पार्टी की ओर से बाद में स्पष्ट किया कि अगर किसी व्यक्ति की आय 12,000 रुपये मासिक से कम है तो इस योजना के तहत उस कमी की पूर्ति की जाएगी.

Related Articles