यौन शोषण के आरोपों में घिरे इस मंत्री के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया विरोध प्रदर्शन

बेंगलुरु : बेंगलुरु (Bengaluru) में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को कर्नाटक के सिंचाई मंत्री रमेश जारकीहोली (Ramesh Jarkiholi) के खिलाफ यौन उत्पीड़न (sexual harrasment) मामले में उनकी संलिप्तता सामने आने पर विरोध प्रदर्शन किया। सिंचाई मंत्री जरखोली के खिलाफ मंगलवार को एक महिला ने यौन शोषण के आरोप में मामला दर्ज कराया है।

पत्रकारों को संबोधित करते हुए, शिकायतकर्ता दिनेश कल्लहल्ली, जो कि एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं। .उन्होंने कहा कि मैंने रमेश जारकीहोली से जुड़े एक सेक्स स्कैंडल की जांच की मांग करते हुए पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।

उन्होंने कहा कि पीड़ित महिला को कर्नाटक पावर ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन लिमिटेड (केपीटीसीएल) में नौकरी की पेशकश की गई थी। इसके लिए महिला को पहले से ही निर्धारित एक स्थान पर बुलाया गया, जब महिला वहां पहुंची तो उसका यौन उत्पीड़न किया गया और अब मंत्री और उसके लोगों द्वारा उसे धमकी दी जा रही है।

आरोप सच साबित होते हैं तो वे राजनीति से इस्तीफा दे देंगे

वहीं सिंचाई मंत्री रमेश जारखोली (Ramesh Jarkiholi) ने इन आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि अगर ये आरोप सच साबित होते हैं तो वे राजनीति से इस्तीफा दे देंगे।

पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि मैं महिला और शिकायतकर्ता को भी नहीं जानता। मैं कथित वीडियो के बारे में स्पष्टीकरण देने के लिए अपने आलाकमान से मिलने जा रहा हूं। मंत्री ने कहा कि मैं मैसूरु चामुंडेश्वरी मंदिर गया था और मुझे यह भी नहीं पता कि वह वीडियो किस बारे में है क्योंकि मैंने उस महिला से कभी बात ही नहीं की है। अगर मेरे ऊपर ये आरोप साबित होते हैं तो मैं अपने विधायक पद और राजनीति से इस्तीफा दे दूंगा।

इसे भी पढ़े : नए डिजिटल मीडिया कानूनों को लेकर केंद्र ने इस राज्य को भेजी नोटिस

उन्होंने कहा कि यह मेरे खिलाफ एक गंभीर आरोप है। मैंने मुख्यमंत्री से बात की है और मैं दोषियों के खिलाफ कार्रवाई भी करूंगा। इस मुद्दे की पूरी जांच होनी चाहिए। बेंगलुरु सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट कमिश्नर ऑफ पुलिस (DCP) अनुचेथ ने बताया कि हमने रमेश जराखोली के खिलाफ दिनेश कल्लहल्ली द्वारा दर्ज शिकायत को स्वीकार्य कर लिया है। हम उसी के अनुसार जांच को आगे बढ़ा रहें हैं।

Related Articles