बच्चो का बढ़ता वजन कंट्रोल करें इन तरीको से

0

मोटापा एक ऐसी बीमारी है जो अपने साथ कई तरह के रोगों को न्योता दे रहा है। जब बच्चे का वजन एक बार बढ़ने लगता हैं तो उनके आत्मविश्वास में कमी, तनाव, चिंता अवसाद आदि कई तरह की परेशानियां भी उन्हें घेरने लगती
हैं। उस वक़्त यदि पेरेंट्स उन पर ध्यान दें तो उनका वजन कंट्रोल में किया जा सकता है।
बच्चों में मोटापे की वजह
बच्चों में मोटापे की कई वजह हो सकती हैं। पारिवारिक मोटापा इसका मुख्य कारण हैं, इससे अलावा जंक फूड्स का ज्यादा सेवन,संतुलित भोजन का अभाव, शारीरिक गतिविधियों की कमी, हार्मोंनस असंतुलन, टी.वी,कंप्यूटर और मोबाइल का घंटों इस्तेमाल आदि।
1. लाइफस्टाइल में बदलाव करें
मोटापा कम करने के लिए बच्चे के लाइफस्टाइल में बदलाव करें। जल्दी उठने की आदत डालें, सैर पर जाएं, मोबाइल फोन की जगह आउटडोर गेम्स के लिए बच्चे को ले जाएं। इसके अलावा साइकलिंग, तैराकी, स्केटिंग ,डांसिग में बच्चे की दिलचस्पी बढ़ाएं।

2. कम कर दें मिठाइयां
मीठा खाना मतलब मोटापे और बीमारियों को न्योता देना, कुछ बच्चो को मीठा खाना ज्यादा पसंद होता है जो मोटापे का कारण बनता है इसलिए बच्चो को मीठे से दूर रखें और हेल्दी खाना खिलाएं।
3. एक्सरसाइज
बच्चे हो या बड़े सेहतमंद रहने के लिए सबसे जरूरी है एक्सरसाइज। बच्चे को हमेशा घर पर बिठा कर रखने की बजाए सैर पर लें जाएं, दिन में कम से कम आधा घंटा एक्सरसाइज करवाएं। धीरे-धीरे समय बढ़ाए इससे उन्हें शारीरिक ऊर्जा मिलेगी और वजन भी कंट्रोल रहेगा।
4. कोल्ड ड्रिंक से करें बचाव
बच्चे को कोल्ड ड्रिंक की जगह पर फ्लेवर वाला दूध या फिर जूस दें। अगर बच्चा ज्यादा जिद्द कर रहा है तो एक दिन में 50 या 80 एमएल से ज्यादा न पिलाएं।
5. कड़वे और मीठे फल सब्जियां
बच्चो को कड़वे और मीठे दोनों तरह के आहार मिला कर खिलाएं। आलू मटर की जगह पर आलू मेथी, पालक पनीर की जगह पालक चने, मिक्स वेज जैसी चीजें बेस्ट हैं। फलों में अनार,सेब के साथ शक्करकंद खिलाएं।

loading...
शेयर करें