तेजस्वी ने नीतीश को मना लिया – अब महागठबंधन पर कोई खतरा नहीं, सबकुछ ठीक हो गया

0

पटना। बिहार में बीते दिनों राजनीति काफी गर्माई हुई थी। आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बेटे और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर कई आरोप लगे थे। जिसके बाद महागठबंधन में खतरा मंडरा रहा था। सीएम नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू तेजस्वी के इस्तीफे के मांग कर रही है। लेकिन अब खबर आ रही है कि बिहार की राजनीति में सब ऑल इज वेल है।

तेजस्वी यादव

तेजस्वी प्रसाद यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से आखिरकार मुलाकात की

तेजस्वी प्रसाद यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से आखिरकार मंगलवार को मुलाकात की। सात जुलाई को सीबीआइ छापेमारी के पश्चात दोनों में कोई बातचीत नहीं हुई थी। यहां तक कि पिछले सप्ताह हुई कैबिनेट की बैठक में भी मुख्यमंत्री से उनकी हाय-हेलो के अलावा कोई बात नहीं हुई थी। इससे पहले नीतीश की मौजूदगी में गत 15 जुलाई को पटना में आयोजित एक सरकारी कार्यक्रम से तेजस्वी के गायब रहने से भी महागठबंधन में रार और गहरी हुई थी। लेकिन खबरों की मानें तो अब सब ठीक हो गया है।

दोनों में क्या बात हुई

तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार से सीधे मुलाकात में अपनी सफाई दी। तेजस्वी ने खुद को बेकसूर बताया है। तेजस्वी ने नीतीश कुमार को बताया जब उन पर आरोप लगे थे तब वो सरकारी पद पर नहीं थे। ऐसे में प्रिवेन्शन ऑफ करप्पशन एक्ट में वो कैसे दोषी हैं? तेजस्वी ने ये भी बताया कि वो सीबीआई केस के खिलाफ कोर्ट जाएंगे और अग्रिम जमानत की अपील करेंगे। यह पहली बार है जब तेजस्वी और नीतीश के बीच बातचीत हुई है। 7 जुलाई को सीबीआई छापेमारी के पश्चात दोनों के बीच कोई बातचीत नहीं हुई थी। यहां तक कि पिछले सप्ताह हुई राज्य कैबिनेट की बैठक में भी मुख्यमंत्री से उनकी हाय-हेलो के अलावा कोई बात नहीं हुई थी।

loading...
शेयर करें