होली के सामाजिक आयोजनों पर लगी रोक, चार अप्रैल तक बंद रहेंगे शिक्षण संस्थान

शिमला: कोरोना (Corona) के बढ़ते मामलों को देखते हुए हिमाचल प्रदेश सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। त्योहारों में कोरोना संक्रमण (Corona infection) के बढ़ने की आशंका पर लगाम लगाने के लिए राज्य सरकार ने होली के दौरान होने वाले सामाजिक आयोजनों पर रोक लगा दी है वहीं लोगों से अपील की है कि वे घरों में परिवार के सदस्यों के साथ ही होली मनाएं। इसके अलावा तीन अप्रैल को सभी कार्यालयों में अवकाश और चार अप्रैल तक सभी शिक्षण संस्थान को बंद रखने का फैसला लिया है।

शिक्षण संस्थान रहेंगे बंद

राज्य सरकार के फैसले के बाद से अब चार अप्रैल तक विश्वविद्यालय, कॉलेज, तकनीकी संस्थान और स्कूल बंद रहेंगे। केवल वही संस्थान खुले रहेंगे, जिनमें परीक्षाएं चल रही हैं इसके अलावा नर्सिंग व मेडिकल कॉलेज भी खुले रहेंगे। शुक्रवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में राज्य सचिवालय में आयोजित एक उच्चस्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया गया। तय किया गया कि एक हफ्ते बाद फिर रिव्यू किया जाएगा और जरूरत के अनुसार फैसले लिए जाएंगे।

ये भी पढ़ें : कोर्ट में हुए बवाल से विशेष न्यायाधीश हुए आहत, अपने पद से दिया इस्तीफा

इनपर लगा प्रतिबंध

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जानकारी दी है कि पिछले कुछ दिनों से सोलन, सिरमौर, ऊना जिले में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने लगे है इसी कारण यह कदम उठाया गया हैं। वर्तमान समय में दो हजार एक्टिव मामले सामने आये हैं। इसी वजह से मंदिरों में लंगर लगाने और धार्मिक आयोजन जैसे हवन यज्ञ, सत्संग, जागरण आदि पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। मंदिरों में श्रद्धालुओं को सिर्फ देवी-देवताओं के दर्शन की ही अनुमति होगी। सीएम ने कहा जिन स्कूलों में रहने की सुविधाएं हैं, उन्हें अपने छात्रावास बंद करने की जरूरत नहीं है लेकिन इन्हे कोरोना गाइडलाइन का पालन करना होगा। शादी समारोहों में बाहरी कार्यक्रमों में अधिकतम 200 और आंतरिक कार्यक्रमों में क्षमता के 50 प्रतिशत तक लोग शामिल हो सकेंगे।

ये भी पढ़ें : सीएम योगी का बड़ा आदेश, सभी विभागों में होली से पहले हो भुगतान

 

 

Related Articles