इंग्लैंड में कोरोना ने दी अपराधों को मात,घटनाओं में 47 प्रतिशत की कमी

धारदार हथियारों से जुड़े अपराधों में वर्ष 2019 के मुकाबले इस वर्ष 21 और 23 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है।

लंदन: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण लोगों के घरों से नहीं निकलने के चलते इंग्लैंड और वेल्स में अपराध चालीस प्रतिशत तक कम हो गए हैं। ब्रिटिश राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (ओएनएस) ने बुधवार को यह सूचना दी।

लूट-पाट की दर में कमी

ओएनएस ने बताया कि पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष अप्रैल और जून के दौरान डकैती, लूट-पाट की घटनाओं में 47 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई। जबकि चोरी की घटनाओं में भी 43 प्रतिशत की कमी आई है।

अपराधों में कमी

एजेंसी के अनुसार कोरोना महामारी के कारण लगाए गए लॉकडाउन और महामारी के खतरे के कारण लोगों के कम घरों से निकलने से इन घटनाओं में गिरावट आई हैं। चाकू या धारदार हथियारों से जुड़े अपराधों में भी वर्ष 2019 के मुकाबले इस वर्ष 21 और 23 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है।

धारदार हथियारों में गिरावट

ओएनएस ने बताया कि पिछले वर्ष देश में अपराध के डेढ़ करोड़ मामले दर्ज किये गए थे। जिसके बाद अप्रैल में लागू किये गए लॉकडाउन के चलते जून तक इन अपराधों में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है। इस वर्ष अप्रैल से लेकर जून तक धारदार हथियारों से किये जाने वालें अपराधों में भी भारी कमी दर्ज की गई।

यह भी पढ़े:राज्यसभा की एक सीट के लिये भाजपा और सपा के बीच शह और मात का खेल

यह भी पढ़े:राहुल गांधी ने किया ट्वीट, भाजपा पहुंची चुनाव आयोग

Related Articles