कोरोना का एक साल हुआ पूरा, वुहान में आज ही के दिन मिला था पहला संक्रमित

पूरी दुनिया जिस तरह से कोरोना महामारी के प्रकोप से जूझ रही है, उसके आगमन के एक साल आज पूरे हो गए हैं। आज ही के दिन पिछले वर्ष 2019 में कोरोना वायरस ने चीन में फ़ैल चूका था

नई दिल्ली। पूरी दुनिया जिस तरह से कोरोना महामारी के प्रकोप से जूझ रही है, उसके आगमन के एक साल आज पूरे हो गए हैं। आज ही के दिन पिछले वर्ष 2019 में कोरोना वायरस ने चीन में फ़ैल चूका था और अभी तक यह तबाही मचा रहा है। साल 2019 में 17 नवंबर को चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था। इस शहर के बाद से पूरी दुनिया में कोरोना वायरस ने महामारी की तबाही मचाई है।

चीन की एक रिपोर्ट के अनुसार, 17 नवंबर 2019 को चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान में कोरोना का सबसे पहला मामला सामने आया था। दुनिया में पहली बार जो व्यक्ति कोरोना की चपेट में आया था, वह हुबेई प्रांत का रहने वाला था, जिसकी उम्र 55 साल थी। नवंबर महीने में चार पुरुषों और पांच महिलाएं कोरोना वायरस से संक्रमित हुई थी।

ये भी पढ़े : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने किया जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री पर हमला

जब पिछले वर्ष नवंबर माह में चीन में कोरोना वायरस का पहला मामला कई बार मीडिया में आया था तब चीन हर बार इसको झुठलाता रहा। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने भी चीनी सरकार के डेटा के आधार पर कहा था कि चीन में 17 नवंबर को पहला मामला सामने आया। लेकिन चीन ने इसे खारिज कर दिया था और उसने कहा कि वुहान में कोरोना वायरस का पहला मामला 8 दिसंबर 2019 को मिला।

ये भी पढ़े : कोविड-19 की रोकथाम के लिए तुर्की में आंशिक कर्फ्यू, सप्ताह के अंतिम दिन बंद रहेंगे रेस्तरां और कैफे

अमेरिका समेत कई देशों ने चीन पर लगाया आरोप

इसके अलावा, अमेरिका समेत कई देशों ने चीन पर कोरोना वायरस को लेकर सूचना छिपाने का आरोप लगाया। जॉन हॉप्किंस विश्वविद्यालय के अनुसार, दुनिया में कोरोना वायरस का सबसे पहला मामला दिसंबर, 2019 में चीन के वुहान शहर में आया था, जो धीरे-धीरे पूरी दुनिया में अभी तक महामारी के रूप में फैल गया।

 

Related Articles

Back to top button