महाराष्ट्र में फिर मंडराया Corona का खतरा, इलाकों में लगा कर्फ्यू, नई गाइडलाइन जारी

महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में 6218 नए कोरोना वायरस Corona virus के मामले, अकोला जिले के दो इलाकों में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए ‘कर्फ्यू’ लगाया गया

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) में पिछले 24 घंटों में 6218 नए कोरोना वायरस (Corona virus) COVID-19 के मामले, कोरोना से 5869 लोगों की रिकवरी और संक्रमण से 51 मौतें दर्ज की गई हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण महाराष्ट्र  के अकोला जिले के दो इलाकों में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए ‘कर्फ्यू’ लगाया गया है।

कोरोना वायरस की गाइडलाइन

अकोला SDO श्रीकांत देशपांडे ने बताया, कर्फ्यू 1 तारीख तक लगाया है। इस दौरान रोजमर्रा की जरूरी चीजें 3 बजे तक खुली रहेगी। अनावश्यक चीजों की दुकानें बंद रहेगी।

महाराष्ट्र में संक्रमण के आंकड़े-

 

कोरोना वायरय के कुल मामले 21,12,312

 

कोरोना संक्रमण से कुल रिकवरी 20,05,851

 

कोरोना से मृत्यु 51,857

 

कोरोना संक्रमण के सक्रिय मामले 53,409

 

कोरोना वैक्सीन की डोज

राजेश भूषण, स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव ने बोला कि देश में अब तक कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की 1,17,00,000 से ज्यादा डोज दी जा चुकी हैं। इनमें से 1,04,00,000 पहली डोज दी गई हैं। 12,61,000 दूसरी डोज दी जा चुकी हैं। सक्रिय मामलों की संख्या अब 1,50,000 से भी कम है।

यह भी पढ़ेएक्सप्रेस-वे पर भीषड़ सड़क हादसा, इनोवा पर पलटा टैंकर, मौत का मचा तांडव

केरल में संक्रमण के आंकड़े

स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव ने यह भी जानकारी दी कि केरल और महाराष्ट्र में अभी भी कोरोना के 75% सक्रिय मामलों की संख्या बनी हुई हैं। केरल में देश के लगभग 38% सक्रिय मामले हैं। महाराष्ट्र में देश के लगभग 37% सक्रिय मामले हैं।

भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस (Corona Virus) COVID-19 के 13,742 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,10,30,176 हुई है। कोरोना संक्रमण से 104 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या  1,56,567 हो गई है।

ICMR के आंकड़े

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के मुताबिक भारत में कल तक कोरोना वायरस (Corona virus) के लिए कुल 21,30,36,275 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 8,05,844 सैंपल कल टेस्ट किए गए।

यह भी पढ़ेनीम की चाय नहीं पी है तो एक बार करें सेवन, कई बीमारियों का होगा सफाया

Related Articles

Back to top button