इतिहास में दर्ज Corona Vaccine संजीवनी बूटी, लोगों का भ्रम हुआ दूर, जानें कैसे?

कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) का पहला टीका लगवाने वाले पहले व्यक्ति बने एम्स के सैनिटेशन डिपार्टमेंट के कर्मचारी ‘मनीष कुमार’, डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने खुद लगवाई कोरोना वैक्सीन

नई दिल्ली: कोरोना महामारी को मात देने के लिए भारत में कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) टीकाकरण अभियान का शंखनाद हो चुका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देश में पहले चरण के कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत की है।

वैक्सीन लगवाने वाला पहला नागरिक

दिल्ली में स्थित एम्स (AIIMS) में टीकाकरण अभियान की पहली शुरुआत की गई। देश में कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) का सबसे पहला टीका एम्स के सैनिटेशन डिपार्टमेंट के एक कर्मचारी “मनीष कुमार” को लगाया गया। इसी के साथ मनीष कुमार कोरोना वैक्सीन लगवाने वाले देश के पहले नागरिक बन गए हैं।

 

लोगों का भ्रम हुआ दूर

इसी दौरान एम्स के डायरेक्टर डॉक्टर रणदीप गुलेरिया (Director Doctor Randeep Gularia) ने लोगों का भ्रम दूर करने के लिए खुद कोरोना वैक्सीन की डोज ली। डॉक्टर रणदीप गुलेरिया कोरोना वैक्सीन लेने वाले तीसरे व्यक्ति बने। डॉक्टर गुलेरिया ने केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन की मौजूदगी में यह कोरोना वैक्सीन लगवाई है।

यह भी पढ़ेUP के सिंचाई विभाग (Irrigation Department) में नौकरी की बौछार

कोरोना का अंत

एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा कि हमने दुनिया का सबसे बड़ा (Corona vaccine) टीकाकरण कार्यक्रम शुरू किया है। हमें पूरा विश्वास है कि यह एक सुगम कार्यक्रम होगा और हम बहुत बड़ी संख्या में लोगों का टीकाकरण कर सकेंगे।

यह भी पढ़ेबढ़ सकती हैं Arnab Goswami की मुश्किलें, WhatsApp चैट हुए लीक

Related Articles

Back to top button