कोरोना वायरस का कहर- पति-पत्नी भी खतरे में, चीन में हो रहे हैं लगातार तलाक

कोरोना वायरस ने पूरे विश्व का हिला दिया है। हर तरफ हाहाकार मचा हुआ हैा छह हजार से ज्यादा लोग अपनी जान गवां चुके हैं। लाखों की संख्या में लोग इससे पीड़ित हैं। चीन में लोगों ने खुद को घरों में कैद कर लिया है। लोग अपने अपने घर से ही काम कर रहे हैं। घर से काम करना पति पत्नी के लिए मुसीबत का सबब बनता जा रहा है। इस वजह से चीन में वायरस के साथ-साथ तलाक के मामले भी सामने आ रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन के शिचुआन प्रांत में महज एक महीने के अंदर 300 से ज्यादा दंपतियों ने तलाक की अर्जी दाखिल की है। इसकी वजह बताई जा रही है कि घर पर पति-पत्नी जरूरत से ज्यादा एक दूसरे के साथ समय बिता रहे हैं। इससे उनके बीच विवाद बढ़ रहे हैं। चीन के डाझोऊ इलाके के मैरिज रजिस्ट्री ऑफिस ने स्पष्ट किया है कि वायरस के प्रकोप के बाद से आवेदनों की संख्या में वृद्धि हुई है।

हालांकि कुछ लोगों का मानना है कि कोरोना वायरस की वजह से लगभग एक महीने तक मैरिज रजिस्ट्री के दफ्तर बंद रहे, इसलिए तलाक के मामलों में बढ़ोतरी देखी गई है। आपको बता दें कि चीन में अभी भी कोरोनो वायरस के मामलों की संख्या सबसे अधिक है। हालांकि पिछले कुछ हफ्तों में ऐसे मामलों की संख्या में भारी कमी आई है।

इटली में भी चीन के जैसे ही हालात हैं। यहां भी कोरोना वायरस के डर से लोग घरों में कैद हैं। हालांकि यहां तलाक नहीं, लेकिन इंटरनेट के इस्तेमाल में 70 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यहां घरों में कैद लोग वेबसीरीज देख कर और ऑनलाइन गेम खेल कर अपना वक्त गुजार रहे हैं। टेलीकॉम कंपनी इटालिया एसपीए का कहना है कि कोरोना वायरस की वजह से इटली में इंटरनेट कनेक्शन की भी मांग बढ़ गई है।

Related Articles